कोहली का यू टर्न, दूसरी शर्मनाक हार के बाद लंबे ब्रेक को बताया हास्यास्पद

दुबई। भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने रविवार को अपनी टीम के यहां आईसीसी T20 विश्व कप में पहले दो मैचों के कार्यक्रम की आलोचना की और कहा कि दो मैचों के बीच एक से अधिक सप्ताह का अंतर ‘हास्यास्पद’ है। भारत ने टूर्नामेंट में अपना शुरूआती मुकाबला पूरे सात दिन पहले 24 अक्टूबर को चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ खेला था और टीम रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ अहम मैच खेल रही है।

कोहली (Virat Kohli) ने यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच के टॉस के समय कहा, ‘‘यह हास्यास्पद है, हम 10 दिन में दूसरी बार खेल रहे हैं। यह काफी लंबा ब्रेक था। ’’ दिलचस्प बात है कि पाकिस्तान से 10 विकेट से हारने के बाद इस स्टार बल्लेबाज ने कहा था कि ब्रेक टीम के लिये अच्छा होगा क्योंकि खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग में खेलकर यहां आ रहे थे।

कोहली (Virat Kohli) ने कहा था, ‘‘मुझे लगता है कि यह सभी दृष्टिकोण से हमारे लिये अच्छा रहेगा। यह जानते हुए कि हमने पूर्ण सत्र खेल लिया है, फिर हमने आईपीएल खेला जो यहां संयुक्त अरब अमीरात के मुश्किल परिस्थितियों में काफी चुनौतीपूर्ण रहा और फिर हम विश्व कप में आ गये। (Virat Kohli) ने कहा था,

‘‘इसलिये हमारे लिये ये बड़े ब्रेक निश्चित रूप से बतौर टीम इस तरह के बड़े टूर्नामेंट में शारीरिक रूप से अच्छी स्थिति में खेलने में मदद करेंगे। ’’पर रविवार को उनके विचार बदल गये लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि लंबे ब्रेक से उनके खिलाड़ियों को मामूली चोटों से उबरने में मदद मिली।

कोहली (Virat Kohli) ने कहा, ‘‘हां, खिलाड़ी अच्छी तरह उबर गये हैं। अच्छे अभ्यास सत्र किये और मैदान पर खेलने के लिये बेताब हैं जो अच्छी चीज है। जब आपको काफी दिन आराम मिल जाता है तो आप मैदान पर बेहतर करना चाहते हो। ’’न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच के बाद भारत को तीन नवंबर को अफगानिस्तान से, पांच नंवबर को स्कॉटलैंड से और आठ नवंबर को नामीबिया से खेलना है।

कोहली (Virat Kohli)ने लगातार दूसरी हार के बाद कहा ,‘‘ यह बहुत अजीब है। मुझे नहीं लगता कि हम बल्ले या गेंद से अपने खेल में साहस दिखा पाये । हमने रन ज्यादा नहीं बनाये लेकिन उसे बचाने के लिये भी साहस के साथ नहीं उतरे।’’ उन्होंने कहा भारत के लिये खेलते समय अपेक्षाओं का सामना करना आना ही चाहिये।

उन्होंने कहा ,‘‘ जब आप भारतीय क्रिकेट टीम के लिये खेलते हैं तो प्रशंसकों की ही नहीं बल्कि खिलाड़ियों की भी काफी अपेक्षायें होती है। अपेक्षायें हमेशा रहेंगी और हम इतने साल से उनका सामना करते आये हैं ।भारत के लिये खेलने वाले हर खिलाड़ी को करना पड़ता है।’’ उन्होंने कहा ,‘‘जब आप एक टीम के रूप में खेलते हैं तो अपेक्षाओं का दबाव नहीं पड़ता लेकिन पिछले दो मैचों में हम ऐसा कर नहीं सके। ’’

इस टूर्नामेंट के बाद टी20 टीम की कप्तानी छोड़ रहे कोहली ने कहा ,‘‘ सिर्फ इसलिये कि आप भारतीय टीम हैं और आपसे अपेक्षायें हैं तो आप अलग तरह से नहीं खेल सकते।’’उन्होंने हालांकि यह भी कहा ,‘‘ हम ठीक हैं और अभी काफी क्रिकेट खेलना बाकी है।’’

पाकिस्तान से दस विकेट से हारने के बाद न्यूजीलैंड से मिली इस हार से भारत की अंतिम चार में पहुंचने की राह मुश्किल हो गई है । उसे अब अफगानिस्तान, नामीबिया , स्कॉटलैंड से खेलना है ।

बेहतरीन हरफनमौला प्रदर्शन से मिली जीत : विलियमसन

T20 विश्व कप के अहम मुकाबले में भारत को आठ विकेट से हराने का श्रेय अपनी टीम के हरफनमौला प्रदर्शन को देते हुए न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने कहा कि उन्होंने पूरे मैच में भारत को दबाव में बनाये रखा । भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट पर 110 रन ही बना सकी । जवाब में न्यूजीलैंड ने दो विकेट खोकर ही लक्ष्य हासिल कर लिया ।

विलियमसन ने मैच के बाद कहा ,‘‘ हर मैच से पहले रणनीति बनाई जाती है । भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ हरफनमौला प्रदर्शन से यह जीत मिली । हमने पूरे मैच में उन्हें दबाव में रखा और हमारे सलामी बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया ।’’

उन्होंने अपने गेंदबाजी आक्रमण की तारीफ करते हुए कहा ,‘‘ हमारे पास दो अच्छे स्पिनर है और गेंदबाजों ने एक ईकाई के रूप में प्रभावित किया । ईश सोढी सीमित ओवरों के क्रिकेट का शानदार गेंदबाज है और इन हालात में स्पिनर काफी उपयोगी साबित हो रहे हैं ।

Back to top button