बेड के लिए KUMAR विश्वास ने UP के IAS को किया फोन, जवाब मिला- कवि हैं, कवि रहिए

मंगलवार को जब कवि KUMAR विश्वास ने एक कोरोना मरीज को बेड दिलाने के लिए UP के आईएएस अधिकारी को फ़ोन किया तो अधिकारी ने उन्हें बेहद ही बेरुखे अंदाज में कहा कि आप कवि हैं, कवि रहिए और सरकार को अपना काम करने दीजिए। KUMAR विश्वास ने IAS  अधिकारी के बेरुखे व्यवहार के बाद ट्विटर पर लिखा कि उनकी गलती नहीं, वे तो मशीन का बस एक पुर्ज़ा हैं।

देशभर में कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण के कारण कई मरीजों का ना तो ठीक से उपचार हो रहा है और ना ही हॉस्पीटल में बेड मिल पा रहा है। UP में स्थिति तो और भी बदतर हो चुकी है. आम आदमी तो छोड़िए, बड़े बड़े शख्सियतों, मंत्री और विधायकों को भी ना तो एम्बुलेंस मिल पा रहा है और ना ही हॉस्पीटल में एडमिट किया जा रहा है। इतना ही नहीं जब अस्पताल में बेड की गुहार लगाने के लिए UP के अफसरों को फ़ोन लगाया जाता है तो सहानुभूति की जगह लोगों को दुत्कार दिया जाता है।

ऐसा ही कुछ प्रसिद्ध कवि और सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहने वाले कवि कुमार विश्वास के साथ हुआ। कुमार विश्वास इन दिनों कोरोना संक्रमितों की मदद के लिए सोशल मीडिया पर लोगों से अपील भी कर रहे हैं और कई बार जरुरत पड़ने पर वरीय अधिकारी को फ़ोन भी लगा रहे हैं। मंगलवार को जब कवि कुमार विश्वास ने एक कोरोना मरीज को बेड दिलाने के लिए UP के आईएएस अधिकारी को फ़ोन किया तो अधिकारी ने उन्हें बेहद ही बेरुखे अंदाज में कहा कि आप कवि हैं, कवि रहिए और सरकार को अपना काम करने दीजिए।

रेलपात पर जानजोखिम में डाल जान बचाने वाले अंकुर मयूर को 50 हजार रुपए रेल मंत्रालय ने दिया

इस आईएस के जवाब से दुखी हुए कवि

कुमार विश्वास ने अपने साथ हुई इस घटना की जानकारी सोशल मीडिया पर भी शेयर की है। कुमार विश्वास ने ट्विटर पर लिखा कि मदद/आपूर्ति का संतुलन बिगड़ रहा है। आज UP के एक IAS ने फ़ोन पर कहा “कौन हैं आप? MP हैं,मंत्री हैं या मेरे सीनियर हैं जो मैं आपके बताए मरीज को बेड दिलाऊँ? कवि हैं कवि रहिए,किसे बेड देना है किसे नहीं सरकार को पता है”। आगे विश्वास ने लिखा कि ख़ैर मरीज को बेड तो किसी से दिला दिया पर उनकी मजबूरी भी जायज़ है।

इसके अलावा कुमार विश्वास ने लिखा कि उनकी गलती नहीं, वे तो मशीन का बस एक पुर्ज़ा हैं। जब मशीन ही ठप्प हो गई तो पुर्ज़े के खड़खड़ाने का क्या रंज। दिनभर कॉल करने पर लोग, डॉक्टर, अधिकारी, समाजसेवी मदद कर ही रहे हैं। कभी-कभी किसी को बचा नहीं पाते तो उस दिन ख़ुद की बेबसी पर ग़ुस्सा-तरस आता है।

बता दें कि देश में वायरस का कहर जारी है। पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना के दो लाख 59 हजार 170 नए मामले दर्ज किए गए हैं। वहीं कुल 1761 लोगों की मौत हो गई। यह एक दिन में सबसे ज्यादा हैं। देश में अब एक्टिव कस की कुल संख्या बढ़कर 20 लाख 31 हजार 977 हो गई है। वहीं उत्तरप्रदेश में पिछले 24 घंटे में 29754 नए केस सामने आए हैं। इसके साथ ही यूपी में  2 लाख 23 हजार एक्टिव केस हो गए हैं।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123