जिस सरकारी जगह को जनप्रतिनिधि और प्रशासन ने किया है संरक्षित, उस जगह को दो घंटे में सौ से भी अधिक लोगों ने किया बलपूर्वक कब्जा

  • कब्जाधारियों ने कहा सब कर रहे कब्जा इसलिए हम भी कर रहे
  • शुक्रवार की सुबह से कब्जाधारियों ने किया कब्जा
  • प्रशासन अनजान

महासमुंद. नगरपालिका क्षेत्र दलदली रोड़ का वह स्थान जिसे विधायक की पहल पर प्रशासन ने संरक्षित करवाया है। करीब 25 एकड़ के इस क्षेत्रफल में आम लोगों को मूलभूत संसाधन की सुविधाएं प्रदान की जानी है। लेकिन लापरवाही का आलम यह है कि इस जगह को लगातार कब्जा किया जा रहा है। शुक्रवार की सुबह हद हो गई यहां दो घंटे के भीतर 100 से भी अधिक कब्जाधारियों ने प्रशासन के मंसूबे को असफल बनाने की कोशिश की गई है।

संरक्षित करने में सिस्टम हुआ फेल

  • दलदली रोड के इस जगह में विधायक डा. विमल चोपड़ा, कलेक्टर, डीएफओं सहित नगरपालिका अध्यक्ष जगह को चिन्हाकिंत कर संरक्षित किए हैं।
  • इस संरक्षित जगह में हरेली-सहेली के तहत पौधरोपण की तैयारी की लेकिन विफल रहा
  • यहां पर इंडोर स्टेडियम बनाने की कवायद हुई, जो फेल हुआ
  • संरक्षित जमीन के पास ही पालिका द्वारा वृद्धाश्रम बनाया जा रहा है, बावजूद कब्जा

देखिए पूरे तालाब को कर लिए कब्जा 

  • दलदली मार्ग में स्थित वृहद रूप में यहां के जमीन बड़े झाड़ के जंगलहै।
  • यहां एक तालाब है जिसे पाटकर अब पूरा कब्जा कर लिया गया है।

क्या कहते हैं विधायक डा. विमल चोपड़ा पढ़िए:

  • जमीन को लगातार संरक्षित करने के लिए प्रयास किया गया, यहां पर आउटडोर, इंडोर स्टेडियम बनाने का प्रस्ताव दिया गया लेकिन अनुमति नहीं मिलने से करोड़ों की जगह कब्जाधारियों की चपेट में है। उक्त जमीन को प्रशासन संरक्षित करने में नाकाम साबित हो रहा है। एसडीएम तहसीलदार भी जानबुझकर चुप्पी साधे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button