टाईसोलेशन के उल्लंघन या कोविड-19 के लक्षण दिखने पर कर्मचारी करेंगे कंट्रोल रूम को सूचित

महासमुन्द। होम आइसोलेशन में रह रहें और रहने वालें लोगों की निगरानी की जाएगी। जिससे व्यक्ति आइसोलेशन अवधि में घरों से बाहर न निकलें। उनके जरूरत की मुताबिक स्वास्थ्य कर्मचारी बेहतर उपचार के लिए दवाईयां मुहैया करायेंगे। निगरानी के लिए इनके घरों पर समय-समय पर सरकारी अमला निगरानी रखेगा। कलेक्टर डोमन सिंह ने आज शाम जिले में कोविड-19 नियंत्रण एवं रोकथाम एवं जरूरी उपायों की जानकारी लेने के साथ ही कलेक्टर ने बतौर सुरक्षा आइसोलेशन किए गए व्यक्ति के निगरानी के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में एसडीएम, तहसीलदार, नगर पालिका अधिकारी, नामित अधिकारी द्वारा आइसोलेशन में रह रहें,

http://Samsung के दो सस्ते फोन Galaxy F12 और Galaxy F02s की Launching today, जानें क्या होगी कीमत

लोगों का प्रतिदिन निगरानी करेंगे साथ ही अपनी रिपोर्ट संबंधित अधिकारी को देंगे। साथ ही संबंधित अधिकारियों को समय-समय पर औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए स्वास्थ्य अधिकारी के साथ जिला अधिकारियों की बैठक ली। कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास अधिकारी और जिला शिक्षा अधिकारी को लिखित में आदेश जारी करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्रों में होम आइसोलेशन रहने वालें लोगों की निगरानी ग्राम पंचायत स्तर पर की जाएगी। इसमें आगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, वहां के  शिक्षक, ग्राम सचिव आदि 14 दिन तक प्रतिदिन उस व्यक्ति के घर जाकर यह सुनिश्चित करेंगे,

http://साप्ताहिक अंक ज्योतिष: 05 से 11 अप्रैल, 2021: अपने जन्म तारीख से जानिए

कि संबंधित व्यक्ति घर के अंदर ही रह रहा है और उस व्यक्ति को कोई खाॅसी, जुकाम जैसे लक्षण तो नहीं हैं। आइसोलेशन के उल्लंघन या कोविड-19 के लक्षणों के दिखने पर संबंधित अधिकारी तुरंत कंट्रोल रूम को सूचित करेंगे। नोवेल कोरोना वायरस कोविड-19 होम आइसोलेशन कंट्रोल रूम 24 घंटे खुला रहेगा। इसका व्हाट्सएप नम्बर 82693-79405 और दूरभाष नम्बर 07723-222100 और 07723-222101 है। उन्होंने कहा कि सर्विलांस टीम उस क्षेत्र में सतत् निगरानी रखें। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री आकाश छिकारा, अपर कलेक्टर जोगेन्द्र कुमार नायक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एन.के. मंडपे, डाॅ. अरविन्द गुप्ता, डाॅ छत्रपाल चन्द्राकर, डाॅ. मुकुन्द राव, महिला एवं बाल विकास अधिकारी मनोज सिन्हा और जिला शिक्षा अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment