महासमुंद: रेमडेशिवीर इन्जेक्शन की बिक्री करते पकड़ा गया डाक्टर, पुलिस के शिकंजे में

महासमुंद। कोरोना महामारी को देखते हुये पुलिस अधीक्षक महासमुन्द प्रफुल्ल कुमार ठाकुर को विगत दिनो से सूचना मिल रही थी कि जिले में भारी मात्रा में कोरोना वाईरस से जीवन रक्षक रेमडेशिवीर इन्जेक्शन दवा का अवैध व्यापार किया जा रहा हैै। पुलिस अधीक्षक, महोदय द्वारा सूचना को गंभीरता से लेते हूुये समस्त थाना/चैकी प्रभारियों व सायबर सेल टीम को ऐसे लोगो को पहचान करने व इस गोरख धंधे में संलिप्त आरोपियों पर कार्यवाही हेतु निर्देशित किया था।

आज मुखबिर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति माईलेन कम्पनी का शासकीय इन्जेक्शन बिक्री हेतु रखा है एवं बिक्री करने हेतु ग्राहक तलाश कर रहा है कि सूचना को गंभीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक महोदय ने सायबर सेल महासमुन्द तथा थाना महासमुन्द पुलिस की टीम को त्वरीत कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया जिस पर संयुक्त टीम के द्वारा मुखबिर के निशानदेही पर मौका राजिम मोड़ महासमुन्द के पास पहुचे जहाॅं एक संदिग्ध व्यक्ति मिला जिसे पकडा गया।

मौके पर जप्त किया गया

जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम दैत्यनाशन पटेल पिता ऋषि कुमार पटेल उम्र 30 वर्ष सा. डाक्टर जिला हस्पताल महासमुन्द का रहने वाले बताया। जिसकी तलाशी लेने पर रेमडेशिवीर इन्जेक्शन 100एम.जी. माईलेन कंपनी का 06 नग प्रत्येक रेमडेशिवीर इन्जेक्शन का कीमत 3,400/- रूपये जुमला कीमत 20,400/- रूपये का मिला जिसे मौके पर जप्त किया गया।

डॉ. चरणदास महंत अपने तीन परिवार के साथ मिल बेटी डॉ सुप्रिया का कराया विवाह… अत्यंत सादगी समारोह में प्रोटोकॉल के नियमों का पालन करते हुए हुआ संपन्न

कोरोना महामारी को देखते शासकीय हाॅस्पिटलों में यह रेमडेशिवीर इन्जेक्शन मरिजों को लगाने हेतु रेमडेशिवीर इन्जेक्शन शासकीय रूप से प्रदाय किया जाता है जिसे अवैध रूप से अधिक मुल्य में मुनाफा कमाने हेतु विक्रय करने हेतु रखा गया था। रेमडेशिवीर इन्जेक्शन प्राईवेट हस्पतालों में कमी होने के कारण यह प्रति नग इन्जेक्शन मार्केट में 20,000/- रूपये से अधिक मुल्य में बेची जानी सूचना मिली थी।  आरोपी के विरूद्ध थाना कोतवाली में अप धारा 102 जौ.फौ के तहत कार्यवाही गयी है। व आगे कार्यवाही हेतु ड्रग कंट्रोल विभाग को सौपी गई व इसकी सूचना कलेक्टर महोदय महासमुंद को भी दी गई है,

यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक श्री प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में अति0 पुलिस अधीक्षक श्रीमती मेघा टेम्भुरकर साहू एवं अनु0अधिकारी(पु) महासमुन्द श्री नारद सूर्यवंशी के निर्देशन में थाना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शेर सिंह बंदे व सायबर सेल प्रभारी उप निरीक्षक संजय सिंह राजपूत, उनि उदय राम साहू , प्रआर. श्रवण कुमार दास,चेतन सिन्हा , मिनेश ध्रुव, आर. रवि यादव, चम्पलेश ठाकुर के द्वारा की गई है।।

छत्तीसगढ़: लापरवाही की इंतिहा! मृत महिला शमशान घाट में उठ खड़ी हुई…अर्थी से वापस अस्पताल लाया गया!