महासमुंद: बेटे के सामने हाथी ने पिता को पटक-पटक कर मार डाला, 6 साल में 21 ग्रामीणों को हाथी ने बेमौत मौत के मूंह में भेजा  

महासमुंद। शाम 6 बजे एक दतैल हाथी ग्राम परसाडीह में मनी राम यादव उम्र 45 वर्ष अपने पुत्र जयलाल यादव उम्र 15 वर्ष के साथ अपने खुद के खेत में धान के फ़सल में दवाई छिड़काव करने गए थे जैसे ही मनी राम द्वारा स्पेयर को पीठ पर लाद कर दवाई छिड़काव कर रहे थे, तभी अचानक पीछे तरफ से हाथी खेत में पहुंच कर किसान को पटक-पटक कर मार दिया। पुत्र खेत के पार में खड़ा था हाथी को देखते ही हाथी आ रहा है भागों जोर-जोर से आवाज दे कर बताया और खुद पेड़ में चढ़ कर जान बचाई।

हाथी से अपने पिता जी के मौत को देखते रहे किसी तरह से हिम्मत जुटा कर गांव में फोन कर सुचना देकर बुलाया तब तक हाथी मनीराम को बुरी तरह से कुचल कर मार दिया। उसके बाद हाथी सीधा भागते हुए ग्राम परसाडीह में दौड़ते हुए गली मोहल्ले को पार करते हुए कुकराडीह बंजर में चले गए। इस नजारे को देख कर लोगों के मन में भय होने लगी और घटना हो गई।

ब्रेकिंग: महासमुंद धनसुली में एक युवक को हाथी ने कुचला, पत्नी और बेटे के सामने हुई घटना, सुबह: से धान कटाई कर रहे थे खेत में

वन विभाग एवं पुलिस विभाग को सुचना देकर बताया मौके पर पहुंच कर शव को रात्रि में खेत से बाहर निकाल कर अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए गजराज वाहन में परिवार को साथ लेकर महासमुंद पहुंचाया। वनविभाग की ओर से तत्कालीन सहायता राशि 25000/ रुपए मृतक के बड़े भाई को एसडीओ वन नाविक जी  एवं रेंजर डडसेना जी ने प्रदान किया। राशि प्रदान करते समय पंचायत के सरपंच बलराम ध्रुव ग्राम प्रमुख रूप सिंह नेताम राधे लाल सिन्हा के साथ ग्राम के ग्रामीण जन उपस्थित थे।

शेष राशि 5लाख 75 हजार रुपए पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद तत्काल प्रदान करने की बात कही। संयोजक राधे लाल सिन्हा हाथी भगाओ फ़सल बचाओ समिति सिरपुर जिला महासमुंद ने बताया कि सिरपुर क्षेत्र में पहला हाथी का दस्तक मार्च 2016 में हुआ था। तब से लेकर अब तक 21 लोगों को हाथी ने कुचल कर मार डाला है। परसाडीह में यह दूसरी किसान है जिसे हाथी ने मार डाला। लगातार हो रहे इस दुखद घटना से हम सब दुःखी हैं।

यहां देखें वीडियो…