महासमुंद। जिले के 02 लाख 73 हजार से अधिक राशन कार्डधारियों को एकमुश्त मिलेगा माह मई-जून का चावल

महासमुंद।कलेक्टर डोमन सिंह ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सभी तहसीलदार, नागरिक आपूर्ति निगम के जिला प्रबंधक, सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं नगरीय निकाय के मुख्य नगरपालिका अधिकारी सहित संबंधित अधिकारियों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली में अंत्योदय, प्राथमिकता, निःशक्तजन, एकल निराश्रित एवं अन्य श्रेणी के चावल कार्ड धारकों को माह मई-जून 2021 के लिए चावल का एकमुश्त वितरण करने के निर्देश दिए गए हैं।  उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कोरोना काल के चलते माह मई-जून यानी दो माह का चावल एक साथ वितरण किया जाए।

http://लॉकडाउन में प्रकृति का अद्भूत नजारा, ये तस्वीर महासमुंद जिले में आज देखा गया

जिसका लाभ महासमुंद जिले के 2,73,125 राशन कार्डधारियों को मिलेगा। इनमें अन्त्योदय श्रेणी के 50 हजार 447, प्राथमिकता श्रेणी के दो लाख 18 हजार 731, निःशक्तजन श्रेणी के 1088, एकल निराश्रित श्रेणी के दो हजार 628 एवं अन्नपूर्णा श्रेणी के 231 राशन कार्डधारियों के लिए चावल का आबंटन जारी कर वितरण मई में कराया जाएगा। चावल कार्डधारी अपनी सुविधानुसार एक व दो माह का चावल ले सकते है। चावल कार्ड धारियों को 02 माह का खाद्यान्न एकमुश्त वितरण करने के संबंध में सूचना के लिए पर्याप्त प्रचार-प्रसार करने निर्देश दिए गए हैं। चावल कार्ड धारक अपनी सुविधा अनुसार 01 या 02 माह का चावल प्राप्त कर सकेंगे। उसे 02 माह का चावल एकमुश्त उठाव करने की बाध्यता नहीं होगी। राजस्व, खाद्य एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों के माध्यम से 02 माह के चावल भण्डारण करने कहा है।

http://ग्रामोफ़ोन बना कोरोना काल में लाखों किसानों के लिए स्मार्ट खेती करने का मंत्र

उचित मूल्य दुकानों से वितरण के समय कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए उपयुक्त व्यवहार के संबंध में शासन द्वारा जारी समस्त निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराया जाए। जिले के सभी उचित मूल्य दुकान संचालकों से माह मार्च 2021 का घोषणा पत्र एवं माह मई 2021 में 2 माह का चावल एवं अन्य चावल सामग्री उठाव के लिए डिमांड ड्राफ्ट 30 अप्रैल 2021 तक प्राप्त कर विभागीय वेबसाइट में डाटा एंट्री पूर्ण कर लिया जाए। जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से माह मई 2021 से जून 2021 की खाद्यान्न सामग्री का चावल कार्ड धारी हितग्राहियों को एकमुश्त वितरण कराया जाना सुनिश्चित करें।