मेरा गांव मेरा शहर

महासमुंद का शख्स राजधानी में बैठ प्रदेशभर के दर्जनों लोगों को मंत्रालय सहित अन्य विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर किया लाखों की ठगी  

छत्तीसगढ़। महासमुंद का शातिर ठग राजधानी के होटल में दफ्तर संचालित कर नौकरी लगाने का धंधा कर रहा था। नौकरी तो किसी का नहीं लगाया लेकिन प्रदेशभर के दर्जनों लोगों से नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपए वसूली कर लिया। रायपुर गोलबाजार थाना ने महासमुंद नयापारा निवासी शाबास खान पिता बाज खान एवं उसके सहयोगी साथी प्रदीप सिंह ठाकुर के खिलाफ अपराध धारा 420, 467, 468, 471, 34 भादवि कायम किया है।

रायपुर एसपी से हुआ था शिकायत

आवेदकगण लोकेश कुमार साहू एवं अन्य 10 लोगों के द्वारा शाबास खान पिता बाज खान एवं उसके सहयोगी साथी प्रदीप सिंह ठाकुर महासमुंद के खिलाफ रायपुर एसपी को शिकायत किया था। जांच के बाद गोलबाजार थाना ने अपराध दर्ज किया है।

10 लोगों से 16 लाख की ठगी

  • लोकेश कुमार साहू पिता गेंदराम साहू (27) ग्राम करसा थाना भिलाई से 03 लाख
  • शैलेन्द्र कुमार देवांगन पिता सतानंद देवांगन (34) चाटीडीह अशोक विहार फेस बिलासपुर से 02 लाख 30 हजार
  • भुपेन्द्र देवांगन पिता देवराखन लाल देवांगन (33) जुना बिलासपुर से 01 लाख 30 हजार
  • बलराम साहू पिता बिसाहू राम साहू (55) रेंगाकठेरा थाना रानीतराई जिला दुर्ग से से 02 लाख
  • सोमनाथ साहू पिता भुवन लाल साहू (25) इन्द्रा नगर डुण्डेरा थाना उतई जिला दुर्ग से 01 लाख
  • परसराम देवांगन पिता स्व0 चोवाराम देवांगन (44) कोहका वार्ड क्र0 07 सुपेला भिलाई से 01 लाख 50 हजार
  • देवेन्द्र साहू पिता महेश राम साहू (58) ग्राम भोथली थाना अमलेश्वर डेढ़ लाख
  • गजेन्द्र कुमार निर्मलकर पिता शंकर लाल (30) इन्द्रा नगर डुण्डेरा थाना उतई 1 लाख
  • सुनील कुमार देवांगन से 01 लाख 50 हजार
  • महेश साहू से 70 हजार

यहां नौकरी देने के नाम पर करता था ठगी

  • पुलिस ने जांच पर पाया कि आरोपी द्वारा माह 04 से 10 के बीच साल 2013 में एमपी लांज पुराना बस स्टैंड रायपुर में मंत्रालय में चपरासी, जिला पंचायत, शिक्षा विभाग आदि में लेखापाल और क्लर्क की नौकरी लगाने के नाम पर ठगी का धंधा चला रहे थे।
  • यहां तक शातिरों ने नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लेने का उधारी के नाम पर इकरारनामा बनवाया था।

ठगी के बाद देता था धमकी

  • ठगी के शिकार हुए लोगों ने पुलिस को बताया कि शाबास खान के धमकी से भयभीत होकर और अनेक लोग अपनी किस्मत मानकार तथा अनेक लोग कानूनी पचडे में फंसने के भय से उसके विरूद्व शिकायत नही कर रहे थे।
  • प्रार्थी ने बताया शाबास खान सैकडो भोले भाले ग्रामीणो को नौकरी का झासा देकर फर्जी कागजात तैयार कर लाखो करोडों रुपए की ठगी किया है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button