देश/विदेश

अग्निपथ योजना के विरोध के बीच महिंद्रा समूह ने अग्निपथ की भर्ती करने की घोषणा की

भारतीय वायुसेना के मुताबिक अग्निवीरों को वही सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी जो एक सेना के जवान को कराई जाती हैं. अग्निवीर भी सेना में वैसी ही जिंदगी जिएंगे जैसी एक सैनिक जीता है. इसके अलावा भी बहुत सी सुविधाएं इन अग्निवीरों को देने की बात कही गई है.

देशभर में अग्निपथ को लेकर चल विवाद के बीच महिंद्रा ग्रुप के चेयर मेन आनंद महिंद्रा  ने जबरदस्त घोषणा करते हुए अग्निपथ में प्रशिक्षित युवाओं को अपने ग्रुप में भर्ती करने की घोषणा की है।

भारतीय वायुसेना के मुताबिक अग्निवीरों को वही सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी जो एक सेना के जवान को कराई जाती हैं. अग्निवीर भी सेना में वैसी ही जिंदगी जिएंगे जैसी एक सैनिक जीता है. इसके अलावा भी बहुत सी सुविधाएं इन अग्निवीरों को देने की बात कही गई है.

क्या-क्या मिलेगा

सैलरी के साथ हार्डशिप एलाउंसयूनीफार्म एलाउंसकैंटीन सुविधा और मेडिकल सुविधा भी प्राप्त कर सकेंगे जैसा कि एक रेगुलर सैनिक को मिलता है. ट्रैवल एलाउंस भी मिलेगा.

साप्ताहिक अंकराशि: जन्म तारीख से जानिए आने वाला सप्ताह आपका कैसा होगा

साल में 30 दिन छुट्टी मिलेगी। मेडिकल लीव अलग हैं.

सर्विस (चार साल) के दौरान अगर मृत्यु होती है तो इन्श्योरेंस कवर मिलेगा. करीब 1 करोड़ मिलेंगे परिवार को.

ड्यूटी के दौरान विकलांग होने पर एक्स-ग्रेशिया 44 लाख रुपये मिलेंगे. साथ ही जितनी नौकरी बची है उसकी पूरी सैलरी मिलेगी और सेवा निधि पैकेज भी मिलेगा.

अग्निवीरों का कुल 48 लाख का इंश्योरेंस होगा. ड्यूटी पर वीरगति को प्राप्त होते हैं तो एकमुश्त सरकार की तरफ से 44 लाख दिए जाएंगे और सेवा निधि पैकेज. इसके अलावा जितनी नौकरी बची है उसकी पूरी सैलरी.

परफॉर्मेंस के आधार पर मिलेगा रेगुलर कैडर

वायुसेना ने कहा है कि वायुसेना में इनकी भर्ती एयर फोर्स एक्ट 1950 के तहत 4 साल के लिए होगी. वायुसेना में अग्निवीरों का एक अलग रैंक होगा. इन अग्निवीरों को अग्निपथ स्कीम की सभी शर्तों को मानना होगा. इसके साथ ही जिन अग्निवीरों की वायुसेना में भर्ती के समय 18 साल से कम होगी उन्हें माता-पिता या अभिवावक से नियुक्ति पत्र पर हस्ताक्षर कराने होंगे. 4 साल की सेवा के बाद 25 फीसदी अग्निवीरों की नियुक्ति रेगुलर कैडर में की जाएगी.

 सम्मान और अवॉर्ड के होंगे हकदार

वायुसेना (Airforce) के अनुसार अग्निवीर सम्मान (Agniveer Honor) और अवॉर्ड (Award) के हकदार होंगे. अग्निवीरों को वायुसेना की गाइडलाइंस (Guidlines) के अनुसार ऑनर्स और अवार्ड्स दिया जाएगा. वायुसेना में भर्ती होने के बाद अग्निवीरों को जरूरत के हिसाब से ट्रेनिंग (Training) दी जाएगी.

Related Articles

Back to top button
IND vs BAN: रोहित शर्मा ने पहला वनडे हारने के बाद सुधारी गलती आईपीएल के अगले सीजन में लागू होगा ये अनोखा नियम, अब 11 नहीं इतने खिलाड़ी एक ही मैच में लेंगे हिस्सा ढाका में भारत और बांग्लादेश की टक्कर, ‘करो या मरो’ मैच में उतरेगी टीम इंडिया IND vs BAN: रद्द होगा भारत-बांग्लादेश के बीच दूसरा वनडे Anupamaa Spoiler: कहानी ने मारी पलटी! अनुपमा का होगा किडनैप, डिंपल का ये एक्शन बजाएगा विलेन की बैंड