मोबाइल धारक हो जाए अलर्ट! एक फोन से सबकुद हो जाएगा खत्म, जानें साइबर लुटेरों की नई चाल,  ऐसे बचिए

इटली Italy में हाल ही में BRATA नाम का एक मैलवेयर खोजा गया था. लुटेरे एक फोन कॉल से मोबाइल धारकों को अपना शिकार बना रहे हैं. आइए जानते हैं लुटेरों की इस नई चाल के संबंध में...

नई दिल्ली. मोबाइल धारक को एक मैलवेयर स्कैम (malware scam) के संभावित पीड़ितों के रूप में पहचाना गया है जो अपने फोन के माध्यम से व्यक्तिगत जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं. एक साधारण फोन कॉल (phone call) का जवाब देने से, यूजर्स के डिजिटल बैंकिंग (digital banking) क्रेडेंशियल चोरी होने का खतरा हो जाता है. हाल ही में इटली में BRATA नाम का एक मैलवेयर खोजा गया था.

लूटेरे ऐसे बना रहे हैं शिकार

जिसमें जालसाज उन एंड्रॉयड यूजर्स (android users) से संपर्क करते हैं जो SMS अटैक के शिकार हैं ताकि उनकी ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) जानकारी चोरी हो सके. क्लीफ़ी रिसर्चर्स का कहना है कि वैरिएंट, जो नया है, उसकी खासियत है कि AV Scanner की रडार में नहीं आता है. उनके शोध में आगे कहा गया है कि मैलवेयर पहले केवल ब्राजील में खोजा गया था.

Apps से फैला यह मैलवेयर

वहां, इसे Google Play Store एप्लिकेशन के माध्यम से वितरित किया गया था. जून 2021 में, इस एंड्रॉयड (Android) घोटाले की पहचान एसएमएस फ़िशिंग (SMS Phishing), जिसे स्मिशिंग के रूप में भी जाना जाता है, उसका उपयोग करके विभिन्न एंड्रॉयड एप्लिकेशन वितरित करने के लिए किया गया था. इस महीने की शुरुआत में, द सन ने बताया कि बैंकिंग, फिटनेस और डॉक्यूमेंट स्कैनिंग ऐप के रूप में मैलवेयर ने 300,000 से अधिक एंड्रॉयड यूजर्स के फोन तक पहुंच प्राप्त कर ली है.

दिसंबर के दूसरे सप्ताह 3, 12, 21, 30 को जन्में जातक को मिलेगा आर्थिक लाभ  

ऐसे फैलाया जा रहा है ये इंफेक्शन

ट्रोजन सॉफ्टवेयर कीस्ट्रोक्स (software keystrokes) को लॉग करने और ऑफसाइट अपराधियों को दूर से व्यक्तिगत डेटा भेजने में सक्षम था, फिर मैसेजिंग ऐप (messaging app) को हैक कर उसी नेटवर्क के अन्य फोन में इंफेक्शन फैलाता था. थ्रेटफैब्रिक की नवंबर की एक रिपोर्ट में इंफेक्टेड ऐप्स का विवरण दिया गया है, जिसमें क्यूआर कोड रीडर, क्रिप्टो वॉलेट और डॉक्यूमेंट स्कैनर (document scanner) शामिल हैं, और कुल 300,000 से अधिक यूजर्स द्वारा डाउनलोड किए गए हैं.

इस तरह बचें

थ्रेटफैब्रिक के मुताबिक, मैलवेयर (malware) पहले डाउनलोड होने पर भी इनएक्टिव हो सकता है, फिर जानकारी लेने के लिए दूरस्थ रूप से एक्टिवेटेड (activated) किया जा सकता है. अगर आपको लगता है कि आपका फोन संक्रमित है, तो सबसे पहले आपको किसी भी संदिग्ध ऐप को जल्द से जल्द डिलीट करना होगा और एक एंटी-वायरस स्कैन चलाना होगा.

साथ ही, यदि आपके डेटा या बैटरी के उपयोग में अचानक वृद्धि होती है, तो हो सकता है कि मैलवेयर (malware)  आपके डिवाइस पर बैकग्राउंड टास्क चला रहा हो. यह सुनिश्चित करने के लिए जांचें कि आपके किसी मित्र को आपसे रहस्यमय संदेश प्राप्त नहीं हुए हैं, विशेष रूप से अजीब लिंक के साथ. मैलवेयर (malware) आपके फ़ोन का उपयोग आपकी संपर्क सूची के लोगों को संदेश भेजने और आपके नेटवर्क को और अधिक इंफेक्ट करने के लिए कर सकता है.

सुरक्षा के लिए आपके बेस्ट ऑप्शन्स: मजबूत एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर (antivirus software) इंस्टॉल करना, नियमित सुरक्षा जांच करना, और सुनिश्चित करना कि आप हमेशा लैटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम पर हैं.

हमसे जुड़िए

Followthislink WhatsApp

https://chat.whatsapp.com/GifNpp6MKWgCY9B5vi7xN

Back to top button