मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना: 6 एवं 7 मार्च को 135 गरीब कन्याओं की होंगे हाथ पीलें

महासमुन्द 04 मार्च 2021/ छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की महिला और बालिकाओं की उत्थान हेतु अनेक प्रकार की योजनाएं शुरू की गई हैं। जिसका लाभ जरूरतमंद लोगों को पहुंचाया जा रहा है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजनांतर्गत महिला एवं बाल विकास विभाग इस महीनें गरीब परिवार की 135 कन्याओं का विवाह कराने जा रही है। सामूहिक विवाह का आयोजन शनिवार 6 मार्च से शुरू होकर 7 मार्च तक चलेगा। जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी मनोज सिन्हा ने बताया कि  6 मार्च को सामूहिक विवाह का आयोजन बिरकोनी चण्डी मंदिर परिसर में होगा।

http://आर्टडिनोक्स ने बरेली में अपना पहला स्टोर खोला! जेएसएल लाइफस्टाइल, आर्टडिनोक्स

इस विवाह आयोजन में 75 कन्याओं के हाथ पीलें होंगे। इसी प्रकार इसी तारीख को बागबाहरा विकासखण्ड के खल्लारी मंदिर कैम्पस 20 कन्याओं का विवाह होगा। 7 मार्च को पिथौरा विकासखण्ड के सांकरा में 40 जोड़ें विवाह बंधन में बंधेंगे। कार्यक्रम में स्थानीय विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष और जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में होगा। राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजना मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत् गरीब परिवारों की लड़कियों की शादी करवानें के लिए राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में 25 हजार रूपए का अनुदान सहायता राशि प्रदान की जाती है। इसका मुख्य उद्देश्य गरीब परिवार को लड़की की शादी करने में किसी प्रकार की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े और उसे किसी अन्य व्यक्ति पर पूर्ण रूप से निर्भर न रहना पड़े।

http://शिक्षा: संकुल स्तर पर मासिक बैठक के लिए नए निर्देश जारी, जानिए अब क्या

महिला एवं बाल विकास अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत् सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। उन्होंने बताया कि प्रति जोड़ा 25 हजार रूपए का व्यय किया जाएगा। इसमें 19 हजार रूपए की उपहार सामग्री, एक हजार रूपए नगद दिए जायेंगे। बाकि 5 हजार रूपए विवाह के विभिन्न आयोजन में खर्च होंगे। वैवाहिक कार्यक्रम में कोविड-19 के गाईड लाईन का पालन किया जाएगा। छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत् गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार/मुख्यमंत्री खाद्यान्न योजनांतर्गत कार्डधारी परिवारों की 18 वर्ष से अधिक आयु की अधिकतम दो कन्याओं को योजनांतर्गत लाभ दिया जाता है। इस योजनांतर्गत प्रत्येक कन्या के विवाह हेतु अधिकतम 25 हजार रूपए की राशि व्यय किए जाने का प्रावधान है।

Leave a Comment