अब छत्तीसगढ़ में टीकाकरण पोस्टर के बाद लेटर बवाल.. महासमुंद कांग्रेस ने PWD को लेटर लिख कहा-कांग्रेस कार्यकर्ता के अवलोकन के बाद ही राशि का करें भुगतान

महासमुंद। छत्तीसगढ़ में इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। अभी जांजगीर जिले में वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पोस्टर का मामला थम भी नहीं पाया है। और अब एक लेटर महासमुंद से सामने आया है, इससे सियासी हलचल फिर बढ़ गई है। यहां महासमुंद कांग्रेस जिला अध्यक्ष डॉ. रश्मि चंद्राकर PWD के EE को लेटर लिखा है जो तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। उन्होंने पत्र में कहा है कि किसी भी रोड और बिल्डिंग के स्थल अवलोकन हमारे पार्टी के कार्यकर्ता या मेरे प्रतिनिधि के द्वारा किया जाए। इसके बाद ही राशि का भुगतान किया जाए। इस लेटर के बाद विभागीय अफसर भी चुप्पी साध लिए हैं।

टीकाकरण पोस्टर के बाद लेटर बवाल

जिला अध्यक्ष में ये लिखा…

कांग्रेस जिला अध्यक्ष डॉ. रश्मि चंद्राकर ने 21 जून 2021 को ये लेटर लिखा है। पत्र में कहा गया है कि महासमुंद जिले में महत्वकांक्षी सड़क और पुल-पुलिया का निर्माण चल रहा है। रोड में WMM प्लांट और ​​​​​मटेरियल में जो मशीन की आवश्यकता होती है, उसका उपयोग ना करके मैनुअल से किया जा रहा है। जिससे रोड निर्माण गुणवत्ताहीन हो जाएगी। पुल-पुलिया टूटने का भी डर है। इसलिए सरकार के द्वारा जो रोड एवं बिल्डिंग का कार्य सही मापदंड और जिस मशीन की आवश्यकता होती है, उसी मशीन से कार्य किया जाए। निवेदन है कि किसी भी रोड और बिल्डिंग के स्थल का अवलोकन हमारे पार्टी के कार्यकर्ता या मेरे प्रतिनिधि के द्वारा किया जाए। अवलोकन के बाद ही रोड और बिल्डिंग की राशि का भुगतान किया जाए।

हालांकि इस मामले में कांग्रेस जिलाअध्यक्ष रश्मि चंद्राकर ने कहा है कि बसना और सरायपाली में सड़क निर्माण में गड़बड़ी की शिकायत मिली थी। लोगों और कार्यकर्ताओं की शिकायत पर ही मैंने पत्र लिखा है। मैंने अपने दायरे में रहकर लेटर लिखा है, इसमें गलत क्या है?

यहां पढ़ें: छत्तीसगढ़ में दो CM को लेकर BJP बोलें- ढाई साल के कंफ्यूजन में अफसर पिस रहे…. अधिकारी यह तय नहीं कर पा रहे है कि छत्तीसगढ़ का असली मुख्यमंत्री कौन है?