Sunday, January 17, 2021
Home Web Morcha अब पुरुषों के लिए तैयार हुआ गर्भनिरोधक गोली, जानिए शरीर पर कैसे...

अब पुरुषों के लिए तैयार हुआ गर्भनिरोधक गोली, जानिए शरीर पर कैसे होगा असर

वैज्ञानिकों ने गर्भनिरोधक (Contraceptive) के क्षेत्र में एक बड़ा कदम उठाते हुए पुरुषों के लिए एक नई गर्भनिरोधक टेबलेट तैयार की है जो पूरी तरह से सुरक्षित होने के साथ ही बहुत ही कारगर है. अब पुरुष भी हर दिन एक गोली खाकर गर्भ निरोध  (Contraceptive) में सफल हो सकते हैं.

यह गोली भी महिलाओं द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली गर्भनिरोधक गोली की ही तरह है. दरअसल आपने अब तक बर्थ कंट्रोल के लिए महिलाओं को गर्भनिरोधक गोलियां खाते देखा होगा. लेकिन अब महिलाओं के साथ पुरुष भी गोलियां लेकर बर्थ कंट्रोल कर सकेंगे. द इकोनॉमिक्स टाइम्स की खबर के अनुसार वैज्ञानिकों का दावा है कि उन्होंने पुरुषों के लिए बर्थ कंट्रोल गोलियां विकसित की हैं, जो पूरी तरह से सुरक्षित हैं.

लॉस एंजेलिस बायोमेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट और यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन के शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि ये बर्थ कंट्रोल गोलियां पुरुषों में स्पर्म को बनने से रोकेंगी. साथ ही बताया कि ये पूरी तरह से सुरक्षित भी हैं. इन बर्थ कंट्रोल गोलियों को लेने से पुरुषों को किसी भी तरह की कोई समस्या नहीं होगी.

धोती-कुर्ता पहन पंडितों ने लगाए चौके-छक्के, कॉमेंट्री संस्कृत में हुआ, देखें VIDEO

आपको बता दें कि बर्थ कंट्रोल के लिए पुरुष अभी तक सिर्फ कंडोम की ही मदद लेते थे. जबकि महिलाओं के लिए कॉन्ट्रासेप्शन के कई ऑप्शन मौजूद हैं. महिलाओं द्वारा खाई जाने वाली बर्थ कंट्रोल कॉन्ट्रासेप्टिव महिलाओं की सेहत पर बुरा असर डालती हैं. दरअसल, इनसे महिलाओं में हॉर्मोंस का संतुलन बिगड़ जाता है.

वैज्ञानिकों का मानना है कि मेल बर्थ कंट्रोल दवाइयों के आने से महिलाओं और पुरुषों में एक नई उम्मीद जगी है,क्योंकि अब महिलाओं को सब अकेले नहीं सहना पड़ेगा, बल्कि अब पुरुष भी दवाइयां लेकर बर्थ कंट्रोल कर सकेंगे. पुरुषों के लिए गर्भनिरोधक गोलियों से पहले पॉपुलेशन काउंसिल और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड हेल्थ और ह्यूमन डेवलपमेंट के शोधकर्ताओं ने मिलकर बर्थ कंट्रोल जेल विकसित किया था, जो पुरुषों में स्पर्म के प्रोडक्शन को कम करने में मदद करता है.

बीते स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया था कि इस जेल में फीमेल सेक्स हॉर्मोन प्रोजेस्टेरोन का सिंथेटिक वर्जन और पुरुषों में पाया जाने वाला टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन शामिल है. इस जेल को पुरुषों को अपने कंधे और कमर पर लगाना होता है, जिसके बाद स्किन इस जेल में मौजूद हॉर्मोन्स को एब्सोर्ब कर पुरुषों में स्पर्म के प्रोडक्शन को कम कर करता है. ये जेल अभी क्लीनिकल ट्रायल पर है. इस ट्रायल के नतीजे साल 2022 तक सामने आने का अनुमान है.

मेष, वृष, सिंह, कन्या तुला और कुंभ के लिए बेहतर समय पढ़ राशिफल

लेकिन नई रिपोर्ट के मुताबिक, पुरुषों के लिए आई कॉन्ट्रासेप्टिव गोलियां पूरी तरह से सुरक्षित हैं. कॉन्ट्रासेप्टिव 11-बीटा-एमएनटीडीसी, टेस्टोस्टेरोन का एक संशोधित सिंथेटिक रूप है. ये मेल हॉर्मोन एस्ट्रोजन और महिलाओं की ओवरी में पाए जाने वाले प्रोजेस्टेरोन हॉर्मोन दोनों पर असरदार है. रिपोर्ट के मुताबिक, 11-बीटा-एमएनटीडीसी पुरुषों में स्पर्म प्रोडक्शन को कम करने के साथ साथ उनके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन के स्तर को भी संतुलित रखती हैं.

मेल बर्थ कंट्रोल कॉन्ट्रासेप्टिव का ट्रायल 18 से 50 वर्ष के हेल्दी पुरुषों पर किया गया है. इन सभी लोगों को 28 दिन तक रोजाना बर्थ कंट्रोल गोलियां दी गईं. इनके साथ 10 पुरुषों को प्लेसिबो दिया गया. जांच के दौरान शोधकर्ताओं ने ये जानने की कोशिश कि रोजाना गोली लेने से कोई साइड इफेक्ट होता है या नहीं.

लेकिन नतीजों मे सामने आया कि रोजाना गोलियां लेने से पुरुषों में सिर्फ चक्कर आने, शरीर पर दाने निकलने और सिर दर्द की ही शिकायत देखी गई. हालांकि, लॉस एंजेलिस बायोमेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट और यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन के शोधकर्ताओं का कहना है कि ये मेल बर्थ कंट्रोल गोलियां कितनी असरदार होंगी इसके बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है. लेकिन ये पूरी तरह से सुरक्षित हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -webmorcha.com webmorcha.com

Most Popular

Recent Comments