भारत में ओमिक्रॉन का बढ़ रहा खतरा, एक दिन में 30 मिले संक्रमित

नेशनल कोविड-19 सुपरमॉडल कमेटी के हेड विद्यासागर ने कहा कि भारत में Omicron की वजह से कोरोना की तीसरी लहर आएगी लेकिन ये दूसरी लहर से कमजोर होगी

नई दिल्ली। भारत में शनिवार को ओमिक्रॉन वैरिएंट के 30 नए संक्रमित मामले सामने आए। इसके एक दिन पहले शुक्रवार को 26 संक्रिमत सामने आए थे। बीते तीन दिनों से देश में ओमिक्रॉन (omicron) संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है। इस तरह देश में अब तक ओमिक्रॉन (omicron) के 148 केस दर्ज हो चुके हैं। देश के 12 राज्यों में ओमिक्रॉन (omicron) संक्रमण का पता चल पाया है। विशेषज्ञ के अनुसार, ये देश में चिंता का कारण है। हालांकि विशेषज्ञ ने कोविड से बचाव के तरीकों को अपनाने की बात कही है।

शनिवार को देश में ओमिक्रॉन (omicron)  के रिकॉर्ड 30 नए केस सामने आए। इसमें तेलंगाना में 12, महाराष्ट्र में आठ, कर्नाटक में छह और केरल में चार नए मामले शामिल हैं। देश में लगातार तीसरे दिन ओमिक्रॉन मामलों में सबसे अधिक एक दिवसीय वृद्धि देखी गई है। शुक्रवार को देश में ओमीक्रोन (omicron)  के 26 नए मामले सामने आए, जबकि गुरुवार को यह संख्या 14 थी। मंगलवार और बुधवार दोनों दिन 12 केस आए।

48 की Malaika ने पहन ली ऐसी Dress, तस्वीरें देखते ही लोगों के मुंह से निकला उफ्फ!

देश के 12 राज्यों में ओमिक्रॉन (omicron) मामलों का पता चल पाया है। जिसमें महाराष्ट्र में सर्वाधिक 48 मामले दर्ज हैं। इसके बाद दिल्ली में 22, तेलंगाना में 20, राजस्थान में 17, कर्नाटक में 14, केरल में 11, गुजरात में सात, उत्तर प्रदेश में दो और आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में एक-एक मामले सामने आ चुके हैं।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने देश के 24 जिलों में पांच प्रतिशत से अधिक कोरोना संक्रमण दर पर चिंता जताते हुए टेस्टिंग बढ़ाने की बात कही है। साथ ही कहा कि इससे संक्रमण को जल्द से जल्द पांच फीसदी के नीचे लाने का प्रयास करना होगा और इसके साथ ही ओमिक्रॉन (omicron) वैरिएंट से संक्रमितों और उनके संपर्कों की तत्काल पहचान कर उन्हें आइसोलेट करने की जरूरत है।

अभी भी नहीं चेते तो और बेकाबू होंगे हालात

ओमिक्रॉन (omicron) के खतरे के प्रति आगाह करते हुए नीति आयोग के सदस्य व कोरोना टीकाकरण टास्क फोर्स के प्रमुख डॉ. वीके पाल ने लोगों से कोरोना उचित व्यवहार का कड़ाई से पालन करते रहने और जल्द से जल्द टीके की दोनों डोज लेने की अपील की। दुनिया के कई देशों में कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति के आंकड़े देते हुए डॉ. पाल ने कहा कि इससे बचने के लिए बार-बार हाथ धोने, उचित दूरी बनाए रखने और मास्क पहनने जैसे पुराने तौर-तरीकों का कड़ाई से पालन करने के साथ ही बेवजह यात्रा से भी बचना चाहिए।

उन्होंने लोगों से त्योहारों व अन्य धार्मिक व सामाजिक समारोहों से दूर रहने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि सर्दियों में वैसे भी वायरस के तेजी से फैलने का खतरा होता है, इसीलिए नए साल के जश्न में भी सावधानी की जरूरत है।

डेल्टा वैरिएंट की जगह लेगा Omicron

बता दें कि कोरोना वायरस के करीब 7 से साढ़े सात हजार मामले में हर दिन भारत में आ रहे हैं. ये मामले डेल्टा वैरिएंट (Delta Variant) के हैं. लेकिन जल्द ही Omicron, डेल्टा वैरिएंट की जगह ले लेगा.

कोरोना की तीसरी लहर आना तय!

नेशनल कोविड-19 सुपरमॉडल कमेटी के हेड विद्यासागर ने कहा कि भारत में Omicron की वजह से कोरोना की तीसरी लहर आएगी लेकिन ये दूसरी लहर से कमजोर होगी. ऐसा इसलिए होगा क्योंकि भारत के अधिकतर लोगों में कोरोना की दूसरी लहर में इम्युनिटी (Immunity) विकसित हो चुकी है. हालांकि ये तय है कि कोरोना की तीसरी लहर आएगी.

https://webmorcha.com/

 

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

 

https://twitter.com/WebMorcha

 

https://www.facebook.com/webmorcha

 

https://www.instagram.com/webmorcha/

Back to top button