महासमुन्द

ग्राम स्वराज अभियान के तहत आजीविका दिवस का आयोजन  आज 

जिला मुख्यालय एवं भंवरपुर में होगा कार्यक्रम

महासमुंद. भारत सरकार पंचायती राज मंत्रालय द्वारा आज 5 मई को ‘‘ग्राम स्वराज अभियान‘‘ का आयोजन किया जा रहा है। महासमुंद के पं. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सभागार में दोपहर 12 बजे से किया जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महासमुंद लोकसभा क्षेत्र के सांसद चंदूलाल साहू होंगे।

  • कार्यक्रम की अध्यक्षता महासमुंद विधायक डॉ. विमल चोपड़ा करेंगे। इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में छत्तीसगढ़ अन्य पिछड़ा वर्ग प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं खल्लारी विधायक चुन्नीलाल साहू, जिला पंचायत महासमुंद की अध्यक्ष अनिता पटेल, पूर्व राज्यमंत्री पूनम चन्द्राकर, महासमुंद नगर पालिका अध्यक्ष पवन पटेल एवं जनपद पंचायत महासमुंद के अध्यक्ष धरमदास महिलांग रहेंगे।

भंवरपुर में भी होगा आयोजन

  • इसी प्रकार बसना विकासखंड के ग्राम भंवरपुर के सरस्वती शिशु मंदिर में भी ‘‘आजीविका दिवस‘‘ का आयोजन किया गया है। यहां मुख्य अतिथि महिला एवं बाल विकास विभाग के संसदीय सचिव एवं बसना की विधायक रूपकुमारी चौधरी होंगे।
  • कार्यक्रम की अध्यक्षता सरायपाली विधायक मलाल चौहान करेंगे। इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में क्रेडा के अध्यक्ष पुरंदर मिश्रा, माटीकला बोर्ड के अध्यक्ष चन्द्रशेखर पाडे़, जनपद पंचायत बसना की अध्यक्ष सरोजनी पटेल, जिला पंचायत सदस्य सरस्वती चौहान, जनपद सदस्य चम्पा चौधरी एवं ग्राम पंचायत भंवरपुर के सरपंच कृष्ण कुमार पटेल रहेंगे।

आजीविका एक्सप्रेस एवं ई-रिक्शा की प्रदर्शनी

  • जिला मुख्यालय महासमुंद के पं. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सभागार (टाउन हॉल) में ग्राम स्वराज के अंतर्गत आज ‘‘आजीविका दिवस‘‘ के रूप में मनाया जा रहा है।
  • जिसमें कौशल विकास द्वारा युवाओं को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के लिए काउंसिलिंग किया जाएगा।
  • इसके अलावा श्रम विभाग द्वारा आजीविका एक्सप्रेस ई-रिक्शा की प्रदर्शनी सह हितग्राही चयन भी किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा ई-रिक्शा के लिए श्रम विभाग के माध्यम से हितग्राहियों को 50 हजार रूपए की अनुदान राशि प्रदाय की जाती है।
  • शेष राशि को हितग्राही द्वारा ऋण के माध्यम से किश्त में चुकाना होता है।
  • आजीविका मेले में समस्त बैंक प्रतिनिधियों, जिला उद्योग व्यापार तथा अंत्यावसायी वित्त एवं विकास निगम की भागीदारी रहेगी।
  • जिससे कि इच्छुक हितग्राहियों को ई-रिक्शा के लिए आसानी से जानकारी एवं ऋण उपलब्ध हो सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button