कोरोना के बीच दर्दनाक खबर: महाराष्ट्र- ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से 22 मौत

महाराष्ट्र के नासिक में टैंकर से ऑक्सीज़न रिफिलिंग के दौरान हॉस्पीटल में ऑक्सीजन सप्लाई बाधित हो जाने की वजह से हॉस्पीटल में भर्ती 22 कोरोना मरीज़ों की मौत हो गई है। लीक होने के दौरान क़रीब 30 मिनट तक ऑक्सीजन की आपूर्ति हॉस्पीटल में बाधित रही। शुरुआती रिपोर्टों में भी कहा गया है कि इन मरीज़ों की मौत ऑक्सीजन की कमी से हुई है। मारे गए सभी मरीज़ वेंटिलेटर पर थे।

यह हादसा नासिक के ज़ाकिर हुसैन हॉस्पीटल में हुआ। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि सरकार इस मामले को देखेगी और पूरी जाँच कराएगी कि हादसा किन वजहों से हुआ और इसके लिए कौन ज़िम्मेदार है।

छत्तीसगढ़: इस संकट की सबसे दुखद तस्वीर: संसाधन नहीं मिली तो परिजन वाले आधे किमी तक स्ट्रेचर पर ले गए शव, स्ट्रेचर वापस लेने आई बाद में एंबुलेंस

कोविड  के क़रीब 3 लाख केस, 2023 मौतें; एक दिन में सबसे अधिक

शुरुआत में एएनआई ने रिपोर्ट दी थी कि इस हादसे के दौरान 11 लोगों की मौत हुई। लेकिन बाद में ज़िला कलेक्टर सूरज मंधारे ने ‘एनडीटीवी’ को बताया, ‘मौजूदा जानकारी के अनुसार ज़ाकिर हुसैन नगरपालिका अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित होने के कारण 22 लोगों की मौत हो गई है।’

महाराष्ट्र के गृह मंत्री राजेश टोपे ने कहा, ‘हमारे पास उपलब्ध जानकारी के अनुसार, नासिक के अस्पताल में वेंटिलेटर पर मौजूद मरीजों की मौत हो गई है। रिसाव उस ऑक्सीजन टैंक से हुआ जो इन मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति कर रहा था। अस्पताल में मरीजों की मौतों को बाधित आपूर्ति से जोड़ा जा सकता है।

अस्पताल के बाहर से जो दृश्य बाहर सामने आए हैं उसमें दिख रहा है कि यह घटना अस्पताल परिसर में हुई। वीडियो फुटेज में दिख रहा है कि टैंकर से तेज़ी से गैस लीक हो रही है और सफेद धुआँ सा आसपास के क्षेत्रों में फैल गया। शुरुआत में जो 11 मौत हुई थी उसकी जानकारी देते हुए अहमर ख़ान नाम के एक ट्विटर यूज़र ने गैस लीकेज का वीडिया ट्वीट किया है।

ऑक्सीजन की आपूर्ति बंद होने के कारण मरीजों और उनके परिवार के सदस्यों में दहशत फैल गई। रिपोर्ट में कहा गया है कि अस्पताल में हादसे के दौरान क़रीब 150 मरीज़ ऑक्सीज़न पर निर्भर थे या फिर वेंटिलेटर पर थे। ‘एनडीटीवी’ की रिपोर्ट के अनुसार क़रीब 31 मरीज़ों को दूसरे अस्पतालों में शिफ़्ट किया गया है।

यदि फ्री में नहीं मिली कोविड वैक्सीन, तो जानिए प्राइवेट अस्पताल में कितनी होगी एक डोज का रेट

एनसीपी नेता मजीद मेमन ने ट्वीट किया कि लीक के लिए ज़िम्मेदार लोगों को सज़ा दी जाएगी।  देश के गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘नासिक के एक अस्पताल में ऑक्सीजन लीक होने से हुई दुर्घटना का समाचार सुन व्यथित हूँ। इस हादसे में जिन लोगों ने अपनों को खोया है उनकी इस अपूरणीय क्षति पर अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूँ। बाकी सभी मरीजों की कुशलता के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ।’