महासमुन्दमेरा गांव मेरा शहर

हाईटेक निकला अवैध शराब कारोबारी, पुलिस पहुंचने के पहले ही समेटा सामान

खल्लारी विधानसभा के गांव भिलाईदादर के एक घर में खुलेआम शराब बेचने के मामले में बागबाहरा पुलिस तो छापेमारी करनी पहुंची, लेकिन खाली हाथ वापस लौटना पड़ा। इसलिए कि शराब विक्रेताओं को पुलिस आने की सूचना पहले से ही मिल गई। हालांकि बागबाहरा पुलिस ने बताया कि गोपनीय तरीके से वहां छापा मारने गए थे। जब पुलिस उनके घर के पास रूकी तो झोपड़ी के सामने दरवाजा खुला हुआ था, वहां उनके परिवार बैठे हुए थे, वहां पर शराब बेचने जैसे कोई सुराग नहीं मिल पाई। बतादें कि जिले में सबसे अधिक अवैध शराब की बिक्री खल्लारी विधानसभा में हो रहा है।

यहां स्थानीय जनप्रतिनिधि के उदासीन रवैए के चलते सरकार की शराब बंदी की मंशा पर पानी फिर रहा है।

http://मिथुन राशि के जातक स्वास्थ्य पर रखें ध्यान, मकर राशि के जातक को मिलेगी सफलता

आखिर उस घर को कैसे सूचना मिली पढ़िए: वेबमोर्चा की पड़ताल…

बतादें कि भिलाईदादर का जो शख्स शराब बेचता है, उसे पुलिस तीन बार जेल भेज चुकी है। सालभर जेल भी काट चुका है। वह शराब बेचने में इतना शातिर हो गया है, कि वह अब पुलिस से भी ज्यादा हाईटेक हो चुका है। पुलिस से अधिक सूचना तंत्र इसके पास है।

http://जानिए: किस झोंपड़ी के छप्पर में रुपए डालने से निकलती है जेबरा शराब

बतादें कि इनके घर पहुंचने का तीन रास्ता है, तीनों रास्तें पर करीब तीन किमी दूर पर 24 घंटे दो से तीन लोग तैनात रहते हैं, जैसे ही पुलिस की वाहन गुजरती है, शराब विक्रेता तक खबर पहुंच जाती है। इसके बाद वह शराब को ठिकाना लगाने के साथ सतर्क हो जाता है।

बागबाहरा पुलिस भी इस बात से सहमत है, कि नेटवर्क अधिक होने के कारण वह पकड़ में नहीं आ रहा है। अब पुलिस के लिए चुनौती-भरा है कि इस हाईटेक अवैध शराब विक्रेता को कैसे पकड़ पाएगी?

यहां पढ़े: http://पहली बार जिले में विजयपाल ब्रांड शाराब जब्त, खल्लारी पुलिस ने दो को किया गिराफ्तार

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button