Uncategorized

सेवानिवृत होने पर प्रधानपाठक नंदकुमार चंद्राकर को भावभीनी दी गई विदाई

महासमुंद . शासकीय प्राथमिक शाला बेलसोंडा में पदस्थ प्रधानपाठक नंदकुमार चंद्राकर को सेवानिवृत होने पर भावभीनी विदाई दी गई। उनके 42 साल के गुणवत्तायुक्त पाठन को याद करते हुए विदाई समारोह का आयोजन स्कूल प्रांगण में रखा गया ।

  • विदाई के अवसर पर नंदकुमार चंद्राकर भावुक हो गए थे उन्होंने बेलसोंडा में मिले सम्मान व सहयोग के लिए समस्त ग्राम वासियों का आभार प्रकट किया।
  • सोमवार को शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के सभा हाल में गरिमामय पुष्प गुच्छ और स्मृति चिन्ह भेटकर विदाई दी।

मार्गदर्शन सदैव मिलता रहेगा  :  

यहां पर यह भी पढ़िएhttp://जीवन में अनुशासन ही बढाएगा सफलता

  • कार्यक्रम में अध्यक्षता कर रहे डा. वाणी तिवारी ने कहा डॉ वाणी तिवारी ने कहा चंद्राकर सर ने अपने 42 साल के कार्यकाल में महत्वपूर्ण 10 साल ग्राम बेलसोंडा के बच्चों को शिक्षित करने में लगाया। अनुशासन के साथ बच्चों को शिक्षित करने में व उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करने का काम चंद्राकर सर ने किया। आज वे हमारे पाठशाला को छोड़कर जा रहे हैं पर उनकी प्रेरणा उनका मार्गदर्शन हमें सदैव मिलता रहेगा ऐसी आशा करते है। हम आपके दीर्घायु होने की कामना करते है। इसी के साथ साल भेंट कर चंद्राकर सर का सम्मान किया।
  • राजेंद्र चंद्राकर ने चंद्राकर सर की सेवाकाल में बच्चों के सही और उचित विकास की बात कही। विशिष्ठ अतिथि सरपंच राजेंद्र चंद्राकर, शाला विकास समिति के अध्यक्ष भोलाराम चंद्राकर पंच प्रकाश सहू सुखवती, कन्न्रौजे पोखन चंद्राकर मौजूद रहे।

गरिमामय संपन्न हुआ कार्यक्रम

विदाई के बाद बाहर निकलते हुए
  • विजया देशमुख, प्रधानपाठक चिंतामणी चंद्राकर, शिक्षक संघ के अध्यक्ष टेकराम सेन, प्रधानपाठक मुढैना, घोड़ारी, स्टेशनपारा बेलसोंडा के अलावा प्राचार्य बीआर बंजारे, नारायण चंद्राकर, सीता शर्मा, लीनू चंद्राकर, नीतू विसेन, सुधा ब्रम्हभट्‌ट, कल्पना साहू, लीना चंद्राकर, रेखा चंद्राकर, सुनीता बंजारे मंच का संचालन हेमलता ठाकुर ने किया, कार्यक्रम को सफल बनाने में जगदीश सिन्हा का महत्वपूर्ण भूमिका रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button