रायपुर: 75 वर्षीय बुजुर्ग मोहन ने कहा साहस से ही कोरोना को दे सकते हैं मात:  बुजुर्ग एवं उनकी बेटी तथा नातिन हुए स्वस्थ

रायपुर 24 अप्रैल 2021।  राजनांदगांव जिले के खैरागढ़ विकासखंड के ग्राम ठेलकाडीह निवासी 75 वर्षीय बुजुर्ग मोहन देवांगन ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण को दृढ़ इच्छाशक्ति और मनोबल से मात दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि सही समय पर इलाज मिलने से यह बीमारी पूरी तरह समाप्त हो जाती है। घबराने एवं निराशा से मन कमजोर होता है। साहस के साथ ही इस बीमारी का सामना कर इसे हरा सकते हैं। उन्होंने बताया कि उनके परिवार में वे स्वयं तथा उनकी बेटी श्रीमती हिरिया देवांगन एवं उनकी 15 वर्षीय नातिन कोविड-19 पॉजिटिव आए।

13 अप्रैल को वे सभी डेडिकेटेड कोविड-19 हॉस्पिटल पेण्ड्री में एडमिट हुए। हॉस्पिटल आने के बाद सही समय पर इलाज मिलने से चिंता दूर हुई।  कमजोरी को देखते हुए इंजेक्शन दिया गया और डॉक्टर एवं नर्स समय-समय पर ऑक्सीजन सेचुरेशन का निरीक्षण करते रहे। श्री मोहन देवांगन ने बताया कि डॉक्टर एवं नर्स की देखरेख में कमजोरी दूर हुई और 3 दिन तक उन्हें ऑक्सीजन दिया गया,

मजबूत इच्छाशक्ति और बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलने से राजेश्वरी ने दी कोरोना को मात

जिससे स्थिति बेहतर बनी और स्वास्थ्य में निरंतर सुधार हुआ और वे सभी अब स्वस्थ होकर अपने घर ग्राम ठेलकाडीह वापस आ गए हैं। श्री मोहन देवांगन ने बताया कि डेडिकेटड कोविड हॉस्पिटल में नाश्ता एवं भोजन की व्यवस्था अच्छी रही। उन्होंने एवं उनके परिवार ने डेडिकेटेड कोविड-19 हॉस्पिटल पेण्ड्री के डॉक्टर, नर्स एवं स्टाफ के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया है।  श्री देवांगन ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए सभी वैक्सीन जरूर लगाएं। मास्क जरूर पहने और नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित रहें।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123