महासमुन्द

रेपर चौकी प्रभारी और उसके सहयोगी को 10 साल का सश्रम कारावास

महासमुंद. बुंदेली चौकी में महिला से दुष्कर्म करने वाले चौकी प्रभारी और उसके सहयोगी को अतिरिक्त एवं सत्र न्याययाधीश फास्ट ट्रेक कोर्ट के न्यायाधीश निधि शर्मा तिवारी ने शुक्रवार को 10-10 साल की सश्रम कारावास और 2-2 हजार रुपए अर्थदंड से दंडित किया है।

  • अभियोजन के अनुसार घटना दिनांक 7 जून 2016 को एक महिला अपने पति की  प्रताड़ना की शिकायत लेकर पुलिस बुंदेली चौकी पहुंची थी।
  • जहां महिला ने मूंशी के पास आवेदन पेश किया तो महिला को थाने में बिठाया रखा।
  • घटना की रात 9 बजे चौकी प्रभारी  गजानंद साहू और सहयोगी आकेश सिन्हा ने मिलकर महिला से जबरदस्ती दुष्कर्म किया। और किसी को नहीं बताने की धमकी दी थी।
  • बाद महिला ने अपने घर जाकर इस घटना की जानकारी परिजनों को दी। दूसरे रक्षा बंधन होने के कारण वह घर से नहीं निकल पाई थी।
  • तीसरे दिन परिजनों के साथ पहुंचकर इसकी शिकायत एसपी से की थी। इसके बाद तेंदूकोना थाना में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया था।
  • मामले के विवेचना के बाद प्रकरण न्यायालय में पेश किया गया था।
  • शुक्रवार को प्रकरण की सुनवाई करते हुए फास्ट ट्रेक कोर्ट ने आरोपी गजानंद साहू तथा आवेश सिन्हा को 10-10 साल एवं 2-2 हजार की अर्थदंड से दंडित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button