महासमुन्द

पढ़िए: अब महासमुंद के बाद बलौदाबाजार जिले के गांवों में उत्पात मचा रहे हाथी, लोगों में दहशत

बारनवापारा। महासमुंद के बाद अब बलौदाबाजार जिले के गांव में हाथियों का दल उत्पात मचा रहे हैं। इससे क्षेत्र के लोगों में दशहत का माहौल है।

  • कसडोल विकासखंड के ग्राम छताल में बीती रात यहां के किसान धनंजय पटेल व गेंदराम ध्रुव के खड़ी धान फसल और सब्जियों को हाथियों के दल ने भारी क्षति पहुंचाई है।
  • जबकि, इसके पहले हाथियों का आहट महासमुंद जिले के सिरपुर क्षेत्र के कई गांवों में सतत बनी हुई है।
  • हाथियों से फसल हानि के साथ जनहानि की घटनाएं भी सामने आते रहे हैं। लेकिन, अभी तक कोई कारगर उपाय शासन स्तर का नही दिखा है।
  • सिवाय मुआवजा प्रकरण दर्ज करने व गांवों में इस समस्या को लेकर होते रहे ग्रामीणों की कुछ बैठकों में शरीक होने के अलावा कोई ठोस उपाय नजर नहीं आया है।
    हलांकि, लंबे वर्ष से डेरा डाले इन जंगली हाथियों से निजाद दिलाने की मकसद से कुमकी हाथियों को लाखों खर्च कर जरूर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। लेकिन, पूर्ण प्रशिक्षित होते तक जंगली हाथियों का डर क्षेत्र को लोगों को सताता रहेगा।

  • जानमाल को खतरा

  • जानमाल सहित कई तरह के उत्पात भी इन विचरण करते हुए हाथियों के समूह से संभावना बनी हुई है।
  • बता दें कि कसडोल विकासखण्ड के रवान पंचायत के आश्रित छताल गांव के किसानों को हुई क्षति भी इन्हीं में से एक है।
  • इस गांव से करीब 4 किमी की दूरी पर बोरिद बांध क्षेत्र में कुमकी हाथियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।
  • हाथियों के समूह में करीब 12-13 की संख्या में है। इसमें 2-3 शावक भी होने की जानकारी मिल रही है।
  • बीती रात यहां के कृषकों को भारी नुकसान पहुंचाया गया। सिरपुर रेंज के वन विकास निगम के विभागीय अमले मौका मुआयना कर प्रकरण बनाया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button