महासमुन्द

पढ़िए जब निहत्था बुजुर्ग महिला ने तीन भालुओं के साथ लड़ किया परास्त

महासमुंद. सोमवार की सुबह तेंदूपत्ता की तोड़ाई कर रही एक बुजुर्ग महिला को एक साथ तीन भालुओं ने मिलकर हमला कर दिया। लेकिन पिथौरा के अरंड समिति के संग्रहक चमेली बाई पति मयाराम (55) निडरता दिखाते हुए निहत्था भालुओं के साथ भिड़ गई और जान बचाने पेड़ पर चढ़ने लगी, लेकिन भालुओं के दल ने महिला को पेड़ में चढ़ने से पहले ही गिरा दिया। लेकिन बुजुर्ग जुझते रही और हाथ-पैर चलाकर संघर्ष किया। हालांकि घटना के आवाज सुनकर समीप में पत्ता तोड़ाई कर रहे अन्य संग्रहक पहुंचकर भालुओं के दल को भगाने में मदद किया।

जानिए प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार

  • पूरे जिले के जंगलों में सबसे अधिक हाथी और भालू खतरनाक साबित हो रहे हैं। दुर्गा प्रसाद पटेल ने बताया कि महिला ने साहस दिखाते हुए भालुओं के दल से लड़ते रही, वह हार नहीं मानी, इसी का नतीजा रहा कि भालू के दल वहां से भाग खड़े हुए।

मामूली पैर में आई चोट : यह भी पढ़िए

http://कलेक्टर के खिलाफ विमल चोपड़ा करेंगे अनशन

  • चमेली बाई जिस समय पेड़ में चढ़ने का प्रयास कि उसी समय भालू ने नीचे की ओर खीचा, जिससे खरोच के साथ चोटें आई है।  घटना की सूचना मिलने के बाद तत्काल ग्रामीण 108 के माध्यम से  पिथौरा अस्पताल भिजवाया, जहां बुजुर्ग महिला का उपचार किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button