मुंगेली

सावधान: एटीएम रूम के भीतर बदल सकते हैं आपका कार्ड

मुंगेली। साइबर क्राइम आपकों लगातार सचेत कर रहा है कि अपना एटीएम कार्ड किसी को न दें, बावजूद आप ठगी के शिकार हो रहे हैं। कुछ इसी तरह का मामला एक फिर सामने आया है। मुंगेली थाना अंतर्गत देवरी कला का रहने वाला रिटायर कर्मचारी एटीएम रूम के भीतर सक्रिय एक फ्राड के झांसे में फंसकर अपना एटीएटी उसे दे दिया और फ्राड दूसरे एटीएम रिटायर कर्मचारी के हवाले कर दिया। फ्राड ने बारी-बारी से कर्मचारी के एटीएम से 55 हजार रुपएण् निकाल लिया।
– ऐसे दिया चकमा देकर एटीएम लिया
आरतीदास मानिकपुरी पिता स्व0 बुधराम दास मानिकपुरी करही कालोनी मुंगेली पेट्रोल पंप के पास एटीएम मशीन के पास पहुंचा। बुजुर्ग ने दो बार प्रयास किया लेकिन राशि नहीं निकला। तो एटीएम मशीन रूम के भीतर एक व्यक्ति जो बगल में खड़ा था, उन्होंने कहा दिखाओ अंकल मैं निकाल देता हूं, कहते हुए वह अपने आप को कर्मचारी बताया।
– राशि निकलते ही बदल दी एटीएम
मशीन में एटीएम डालने के बाद बुजुर्ग से कहा गया कि अंकल अपना गोपनीय नंबर डाले, मै नंबर डालकर जरूररत की राशि 4 हजार रुपए निकाल लिया। तभी बुजुर्ग ने अपना एटीएम वापस लेना चाहा तो फ्राड ने दूसरे कार्ड को नीचे गिरा दिया। और एटीएम गिर गया है कहते हुए जमीन के नीचे गिरे एटीएम को उठाते हुए वापस दिया। बुजुर्ग ने अपना एटीएम समझते हुए वापस रख लिया।
– मोबाइल में मैसेज पर तीन दिन बाद पता चला
खाते से राशि निकलने के तीन दिन बाद बुजुर्ग को खाते से राशि निकलने की जानकारी हुई। 8 मार्च को 4 हजार रुपए निकालने के बाउद वह 12 मार्च को पुन: राशि निकालने गया, जहां फाल्ट स्लीप निकने के पता चला। जब बैंक में जानकारी लिया तो जो एटीएम उसके पास है वह अपने नाम का नहीं बल्कि वह एटीएम राजेन्द्र कुमार शर्मा के नाम से है। उन्होंने बुजुर्ग के खाते से बारी-बारी मोह0 अली के खाता क्रमांक 62201805600000 86929000000 10315696007 में 55 हजार रुपए ट्रांसर्फर कर लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button