Crime Petrol देखकर पत्नी ने पति को उतारा मौत के घाट, ऐसे सुलझी Murder की गुत्‍थी…

ग्वालियर. शहर में एक ऐसी वारदात का पुलिस ने खुलासा किया है जो इन दिनों चर्चा का ‌विषय बन गई है. एक महिला ने अपने ही पति की हत्या कर उसे आत्महत्या का रूप दे दिया. इसके बाद पुलिस को करीब 28 दिनों तक नई नई कहानियां सुना कर गुमराह करती रही. आखिर पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने उसकी पोल खोल दी और फिर सामने आई ऐसी बात जिसे सुन सब हैरान हैं. महिला ने इस Murder  को करने की पूरी प्लानिंग की और इसके लिए उसने क्राइम पेट्रोल नामक एक धारावाहिक को बारीकी से देख अपराध रचा.

जानकारी के अनुसार 2 जून की रात को रामजी का पुरा निवासी परशुराम की मौत हो गई थी. पुलिस जब मौके पर पहुंची तो वो खाट पर पड़ा था और उसके गले में फंदा लगा हुआ था. पुलिस ने जब जांच की तो उसके शरीर पर चोट के निशान थे. इस पर उसकी पत्नी ममता ने बताया कि फंदे पर लटके पति को उतारा तो गिरने से चोट लगी है. Police पहले तो इस मामले को आत्महत्या मानकर जांच कर रही थी.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से खुलासा

Police इस दौरान ममता से पूछताछ करती रही और वो कहानी बना बना कर परशुराम की मौत को आत्महत्या बताती रही. Police भी ममता की बात पर यकीन करने ही वाली थी कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में परशुराम की मौत फांसी के फंदे से न होकर ब्रेन हैमरेज से होने की जानकारी मिली. इस पर Police ने ममता को हिरासत में लिया और कड़ाई से पूछताछ की.

बेटे को बाहर भेज पति की पीट पीटकर की हत्या
ममता ने बताया कि परशुराम नशे में उसके साथ मारपीट करता था. इसका असर उसके 13 साल के बेटे पर भी गलत पड़ रहा था. 2 जून की रात को भी परशुराम ने ममता के साथ मारपीट की. इसके बाद ममता ने परशुराम की Murder करने की ठान ली और बेटे को मोबाइल चार्जर लाने के बहाने बाजार भेज दिया.

इसके बाद ममता ने कपड़े धोने वाले मोगरी से परशुराम को पीट पीटकर मार डाला. फिर क्राइम पेट्रोल में देखे एक एपिसोड के अनुसार ही उसने हत्या को आत्महत्या बताने की योजना बनाई. फिर परशुराम के गले में फंदा लगाकर उसे खटिया पर लिटा दिया और घर के बाहर निकलकर शोर मचाने लगी.