नवरात्रि विशेष: कोरोना संकट का अद्भूत उदाहरण: कोलकाता के इस पूजा पंडाल में मां दुर्गा की जगह प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा पर मूर्ति स्थापित

0
webmorcha.com
नवरात्र 2020

कोलकाता पूजा पंडाल में मां दुर्गा की जगह प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा पर मूर्ति स्थापित

17 Oct : WebMorcha.com पश्चिम बंगाल: कोरोना संकट काल में जहां पूरी दुनिया की दिशा-दशा बदल गई है। दुनिया के हर वर्ग इस संकटकाल में जद्दोजहद कर रहा है। भूतकाल की वह हर जिंदगी यादों के झरोखें में नजर आ रहा है। भारतीय परंपरा में महापर्व के रूप में मां दुर्गा की पूजा नवरात्र में होती है। इस पर्व को लेकर हर तरफ उमंग व उत्साह का बसेरा होता है। लेकिन आज हमने क्या खोया क्या पाया और क्या देखा की स्थिति बन गई है।

चलिए कुछ भी हो शनिवार 17 अक्टूबर से महापर्व नवरात्र मनाने जा रहे हैं। मंदिरों में पूजा तो होगी, लेकिन सरकार के गाइडलाइन के अनुसार। इस महापर्व में बहुत कुछ बदल गया है। एक उदाहरण पश्चिम बंगाल कोलकाता से सामने आई है। यहां एक कलाकार ने मां दुर्गा की प्रतिमा की जगह वर्तमान परिद्श्य को पूजा पंडाल में स्थापित किया है। यहां पर एक मां और बच्चे की मूर्ति स्थापित की गई है। कलाकार ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान यह विचार आया था, उसने बताया कि जब मैंने प्रवासी श्रमिकों की दुर्दशा देखी थी। 4 बच्चों के साथ इस तरह के दूर के सहायता से चलने वाली एक महिला का कुछ ऐसा ही उदाहरण देखने को मिली थी।

webmorcha.com
कोलकाता पूजा पंडाल

यहां पढ़ें: थाना-चौकी में 10 से 15 लाख और शीर्ष अफसरों तक पहुंचेगा 25 लाख का उपहार, नेताजी समेत पत्रकारों को मैनेज करने के दाम तय

webmorcha.com
कोलकाता पूजा पंडाल कलाकार
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here