देश/विदेशमेरा गांव मेरा शहर

सस्ते’ मिल रहे इन 16 मजबूत कंपनियों के Stock, पोर्टफोलियो में करें शामिल, बाजार उठने पर होगी कमाई

बाजार के गिरावट में बहुत सी दमदार कंपनियों के शेयर आकर्षक वैल्युएशन पर आ गए हैं.

February में 24 तारीख को रूस की सरकार ने सेना को यूक्रेन पर हमले का आदेश दिया था, जिसके बाद से दोनों देशों में युद्ध जारी है. दोनों देशों के बीच तनाव 24 फरवरी के पहले से ही बना हुआ था. Geopolitical रिस्क के चलते दुनियाभर के बाजारों में गिरावट देखने को मिली है. इससे घरेलू बाजार भी अछूता नहीं रहा है.

हालांकि इस गिरावट में बहुत सी दमदार कंपनियों के शेयर आकर्षक Valuation आ गए हैं. इन शेयरों के फंडामेंटल मजबूत हैं और जब बाजार एक बार स्थिर होगा, आगे इन शेयरों में अच्छी तेजी की उम्मीद है. Brokerage हाउस एक्सिस सिक्योरिटीज ने ने ऐसे 16 लार्जकैप, मिडकैप और स्मालकैप शेयरों की लिस्ट दी है, जो आगे बाजार में दौड़ लगाने को तैयार हैं.

इन नाम की लड़कियां जिस घर करती हैं शादी, वहां धन-धान्य की कभी नहीं होती कमी

बेस्ट लार्जकैप Stock: TCS, Vedanta, Coal India, SAIL और SBI

बेस्ट Midcap स्टॉक: Oil India, Canara bank, Dalmia Bharat, Persistent, Chola Investment & Finance

Best  स्मालकैप स्टॉक: Finolex Industries, Birla Soft, Chambal Fertilizer, Redington India, Gujarat Narmada valley fertilizer

ये फैक्टर बाजार के लिए अहम

ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि जब रूस-यूक्रेन तनाव कम होगा, तो बाजार द्वारा

एक बार फिर मौजूदा कैलेंडर साल में सेंट्रल बैंकों दरों में बढ़ोतरी और इनफ्लेशन

जैसी महत्वपूर्ण घटनाओं पर फिर से ध्यान देने की उम्मीद है.

आगामी FOMC बैठक में FED का रुख निकट अवधि में बाजार की दिशा के लिए निर्णायक फैक्टर होगा.

वर्तमान में क्रूड भी एक बड़ा फैक्टर है. ग्लोबल ग्रोथ में कटौती की संभावना पर

यूएस फेड रेट हाइक की गति को धीमा कर सकता है. हालांकि दरों में बढ़ोतरी से इनकार नहीं है.

आने वाले दिनों में सेंट्रल बैंकों का पहला ध्यान ग्रोथ इफेक्ट की बजाय महंगाई के प्रभावों को कंट्रोल करने पर अधिक होगा.

ब्रोकरेज हाउस का मानना ​​​​है

कि वर्तमान में मैक्रोइकोनॉमिक डेवलपमेंट पर इक्विटी, डेट, करंसी और

गोल्ड सहित सभी प्रमुख एसेट्स क्लास में अस्थिरता का असर है.

निफ्टी छू सकता है 20200 का लेवल
ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि कंपनियों के लिए दिसंबर तिमाही बेहतर रही है. कंपनियों में अर्निंग मोमेंटम बना हुआ है और यही बाजार के लिए की फैक्टर साबित होगा.

मुनाफा बढ़ने से कैपेक्स बढ़ेगा. स्पेंडिंग बढ़ेगी तो Bank  की क्रेडिट ग्रोथ बेहतर होगी. बजट एक्सपेंडिचर से भी ग्रोथ आएगी.

इसे देखते हुए ब्रोकरोज हाउस ने दिसंबर 2022 तक निफ्टी के 20200 के लेवल पर पहुंचने का अनुमान लगाया है.

हालांकि जियोपॉलिटिकल टेंशन, महंगाई और ब्याज दरों में बढ़ोतरी और

स्टेट इलेक्शन के रिजल्ट जैसे मैक्रोइकोनॉमिक फैक्टर्स रिस्क प्वॉइंट भी हैं.

 

 

Related Articles

Back to top button