महासमुंद पुलिस को मिली बडी सफलता: विलुप्त प्रजाति का पेंगोलीन बिक्री करते दो आरोपी गिरफ्तार

महासमुंद। पुलिस अधीक्षक के निरर्देशन पर महासमुंद जिले में लगातार विलुप्त प्रजाति के वन्य जीवों के अवैध तस्करी की सूचना मिल रही थी जिस पर कार्यवाही करने हेतु जिले के सभी थाना/ चौकी प्रभारियों को निर्देशित करने पर पुलिस अधीक्षक महोदय के निर्देशन एवं अति. पुलिस अधीक्षक महोदया महासमुंद श्रीमती मेघा टेम्भूरकर साहू तथा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सराईपाली विकास पाटले एवं थाना प्रभारी सरायपाली सुश्री वीणा यादव के मार्गदर्शन में आज चौकी बलौदा थाना सरायपाली क्षेत्र के ग्राम जामपाली क्षेत्र में दो व्यक्तियों के द्वारा विलुप्त प्रजाति के पेंगोलिन को बेचने हेतु ग्राहक तलाशने की सूचना मुखबिर द्वारा देने पर तस्दीक हेतु मुखबिर के बताए लोकेशन पर घेराबंदी करने पर ग्राम टेमरी,

http://खनिज विभाग की बड़ी कार्रवाई : लौह अयस्क परिवहन में गड़बड़ी को लेकर 105 वाहनों की जांच: 11 वाहन जब्त

जामपाली पुल के पास जामपाली में दो संदिग्ध व्यक्ति एक सफेद रंग की बोरी रखे मिले जिनसे नाम पूछने पर अपना अपना नाम (1)डमरु सिदार पिता मंगलसाय सिदार उम्र 39 वर्ष जाति गोंड,(2)नेपाल सिदार पिता पविराम सिदार उम्र 35 वर्ष ग्राम जामपाली चौकी बलौदा थाना सराईपाली जिला महासमुंद (छ ग) बताए जिनके क़ब्जे में रखे बोरी को चेक करने पर बिक्री करने हेतु रखे सफ़ेद रंग के प्लास्टिक बोरी में  भुरे रंग का दुर्लभ/विलुप्त वन्य प्राणी पेंगोलीन कीमती लगभग 5 लाख रुपये, 11 किलो वजनी 3.5 फ़ीट लंबा जिन्दा मिला जिसे रखने के संबंध में वैध कागजात/लाइसेंस पेश करने हेतु संयुक्त रुप से दोनों संदेहियों को धारा 91जा.फ़ौ. का नोटिस दिया जो दोनो व्यक्तियों द्वारा वन्य जीव को अपने पास रखने,

http://छत्तीसगढ़ चार लोगों का चर्चित हत्या का मास्टरमाइंड निकली बहू..145 दिन बाद गिरफ्तार

परिवहन करने एवं बिक्री करने के संबंध में कोई वैध कागज़ात लाइसेंस नहीं होना बताए जो की आरोपियों का कृत्य अपराध धारा वन्य जीव सरंक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9,39,51 का करना पाए जाने से उन्हें गिरफ्तार कर अपराध पंजीबद्ध  कर आरोपियों को न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया,सम्पूर्ण कार्यवाही में चौकी प्रभारी नसीमुद्दीन खान, प्रधान आर० पंकज बाघ, आर० सुभाष यादव, वीरेंद्र कर ,मनोज भोई, अजय नेताम, यसवंत ध्रुव, छविसंकर सागर, सैनिक ईश्वर राणा का महत्वपूर्ण योगदान रहा।