वीडियो कॉल पर प्रेमी ने बताया तरीका, बेटी ने उसी तरह से की मां की हत्‍या

0
43
webmorcha.com

 फरीदाबाद. हरियाणा के फरीदाबाद में पुलिस की Crime Branch  टीम ने Blind Murder  केस को सुलझाने का दावा किया है. क्राइम ब्रांच का दावा है कि 16 वर्षीय बेटी ने ही अपनी मां को मौत के घाट उतारा है. Police  का दावा है कि प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी के साथ मिलकर बेटी ने वारदात को अंजाम दिया है. पुलिस ने बताया कि नाबालिग लड़की अपने प्रेमी के साथ शादी करना चाहती थी, लेकिन मां को ऐतराज था और वो विरोध भी कर रही थी.

इससे नाराज बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर उसकी Murder की साजिश रची और वारदात को अंजाम दिया. Police  के मुताबिक लड़की ने रात को नींबू के पानी में मां को नींद की गोलियां दीं. इसके बाद प्रेमी ने उसे वीडियो कॉल कर Murder करने का तरीका बताया. बता दें कि बीते 10 जुलाई की रात वारदात को अंजाम दिया गया था. इसके बाद 11 जुलाई से Police मामले की जांच कर रही थी. Police  कमिश्नर ओपी सिंह ने इस ब्लाइंड मर्डर केस की जांच के लिए दिशा-निर्देश डीएलएफ क्राइम ब्रांच की टीम को दिए थे. मामले में 2 लोगों को Police  ने पकड़ा है.

अनुभव का मिला लाभ Police के मुताबिक, गिरफ्तार आरोपियों की पहचान दीपांशु उम्र 18 वर्ष पुत्र लवकेश निवासी जिला बुलंदशहर उत्तर प्रदेश एवं एक नाबालिग लड़की उम्र 16 वर्ष निवासी फरीदाबाद के रूप में हुई है. फरीदाबाद के उड़िया कॉलोनी डबुआ में रहने वाले विशाल ने 11 जुलाई को Police  में शिकायत दी कि रात को किसी ने उसकी मां सुधा की Murder कर दी है. जिस पर Murder  का मामला थाना डबुआ में दर्ज कर मामले की जांच क्राइम ब्रांच डीएलएफ को सौंपी गई थी. क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने मामले को जल्द सुलझाने के लिए टीम गठित कर मामले की जांच शुरू की. क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने अपने अनुभव,

तकनीकी और सूत्रों के माध्यम से केस का खुलासा करते हुए आरोपी दीपांशु को 3 अगस्त और आरोपी किशोरी को बुधवार 4 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया. वीडियो कॉल पर बताता रहा तरीका Police के मुताबिक लड़के के कहे मुताबिक लड़की ने निंबू पानी (शिकंजी) में नींद की गोलियां डालकर अपनी मां को पिला दी. इसके बाद रात को करीब साढ़े 12 बजे आरोपी दीपांशु से विडियो कॉल की और साजिश अनुसार दीपांशु ने पहले तकिये से मुंह दबाने के लिए बोला और फिर चुन्नी से गला दबाने के लिए कहा. 

दीपांशु के कहे अनुसार पहले तकिये से और फिर चुन्नी से गला दबाकर लड़की ने अपनी मां सुधा की Murder  कर दी. क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने दोनों आरोपियों को बीते बुधवार को अदालत में पेश किया जहां से अदालत ने आरोपी दीपांशु को जेल में भेज दिया और नाबालिग आरोपी लड़की को करनाल नाबालिग जेल भेजने के निर्देश दिए.