तुला राशि के जातकों को दिसबंर में कार्यक्षेत्र में मिलेगी भरपूर सफलता

तुला राशि : दिसंबर 2021 में तुला राशि के जातकों को कार्य क्षेत्र में भरपूर सफलता मिलने वाली है। इस माह आपकी संवाद शैली दूसरों को प्रभावित करने वाला होगा। पारिवारिक जीवन में आप अपने घर-परिवार के मामलों में बढ़-चढ़कर भाग लेने का अवसर मिलेगा। निजी जीवन में आपकी सुख-सुविधाओं में बढ़ोत्तरी होगी। इस माह कोई छोटी दूरी की यात्रा करना, आपके लिए सबसे अधिक उत्तम दिखाई दे रहा है।

कार्यक्षेत्र

10 दिसंबर 2021 से तुला राशि के लग्न भाव के स्वामी शुक्र की उपस्थिति चतुर्थ भाव में रहेगी। इस उपस्थिति से कैरियर और कार्यक्षेत्र के भाव को भी दृष्टि करेंगे, जिससे आपको सफलता मिलेगी। इसी माह सूर्य के साथ तीसरे भाव में बुध देव भी, अपना गोचर करते हुए आपकी संवाद शैली को बढ़ाएगा।  ग्रहों की शुभ दृष्टि दर्शा रही है कि दिसंबर के महीने में आप अपनी सभी बाधाओं को दूर कर, अपने शत्रुओं पर भी सरलता से सफलता प्राप्त करने में सक्षम होंगे।

आर्थिक

दिसबंर 2021 साल का अंतिम  माह तुला राशि के आर्थिक जीवन के लिए खुबसूरत होगा। इस माह के दौरान वो अपनी बचत करने में सक्षम रहेंगे। इससे उन्हें अपने धन को संचय करने में मदद भी मिलेगी। साथ ही दूसरे भाव में मंगल की उपस्थिति भी, तुला राशि के जातकों के लिए अच्छे संकेत दे रही है।

सेहत

तुला राशि के सेहत के दृष्टिकोण दिसंबर महीना सकारात्मक परिणाम लेकर आएगा। इस माह आपकी स्वास्थ्य पहले से बेहतर रहेगी। आपके लग्न भाव के स्वामी शुक्र पर शनि देव की दृष्टि, इस पूरे ही महीने आपका रोगों और रोगों से बचाव करेगी।

मिथुन और तुला पर चल शनि का ढैय्या, जानें शनि के प्रकोप से बचने का उपाय

प्रेम व वैवाहिक जीवन

दिसबंर माह प्रेम संबंधों के लिए मिश्रित है, आपके छठवें भाव के स्वामी गुरु बृहस्पति की पंचम भाव में और आपके पंचम भाव के स्वामी शनि का आपके बारहवें भाव में उपस्थित होना, प्रेमी जातकों के जीवन में कुछ समस्या उत्पन्न कर सकते हैं। इस दौरान आप अपने प्रियतम को अधिक सलाह-मशवरा देने की कोशिश करें।

पारिवारिक

आपके लग्न भाव के स्वामी शुक्र का चौथे भाव में उपस्थित होना, परिवार के कार्यों में आपकी रुचि को बढ़ाने का कार्य करेगा। इसके साथ ही दूसरे भाव में मंगल देव का होना, जो घर-परिवार में शांति को दर्शाता है, इसके कारण आपको दिसंबर 2021 माह में अपने परिवार से संपूर्ण समर्थन और प्रेम की अनुभूति मिलेगी।

उपाय

भगवान परशुराम के अवतार के बारे में अध्ययन करना चाहिए, इसलिए भगवान परशु राम का संबंध शुक्र ग्रह से होता है।

अपनी जेब में रोजना इलायची के दाने रखें और किसी भी महत्वपूर्ण कार्य पर निकलने से पहले, उन्हें चबाएं लें।

देवी लक्ष्मी की स्तुति में “श्री सूक्तम्” का स्तूति करें।

रोजाना  रूप से देवी कात्यायनी की पूजा करें।

शुक्र ग्रह को शांत करने के लिए शुक्रवार के दिन को स्फटिक की माला पहनें।

हमसे जुड़िए

Followthislink WhatsApp

https://chat.whatsapp.com/GifNpp6MKWgCY9B5vi7xN

Back to top button