लाठी चार्ज के महानायक का हुआ तबादला, घटना से शासन-प्रशासन का हुआ था किरकिरी

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने विधायक विमल चोपड़ा और उनके समर्थकों पर बर्बरतापूर्वक महासमुंद पुलिस ने लाठी चार्ज किया था। घटना के बाद शासन-प्रशासन का किरकिरी हुआ था। लोगों में जनप्रतिनिधि के साथ हुए इस घटना से आक्रोशित थे। सरकार ने आगामी विधानसभा सत्र में इस मामला से बचने इस लाठीचार्ज के महानायक सीएसपी उदय किरण का तबादला दुर्ग कर दिया है। उन्हें एसटीएफ बघेरा, दुर्ग के सहायक पुलिस अधीक्षक के रुप में पदस्थ किया है।

शासन ने दिए थे जांच के आदेश

महासमुंद विधानसभा के विधायक डा. विमल चोपड़ा और उनके समर्थकों पर पुलिस द्वारा बर्बरता पूर्वक हुई लाठी चार्ज को लेकर मजिस्ट्रेट जांच होगी। इस घटना को लेकर शासन में काफी नराजगी देखी जा रही थी। सूत्रों के अनुसार घटना से राज्य सरकार की छवि धूमिल हुई है। इसलिए मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। माना जा रहा है कि जांच के बाद अफसरों के उपर कार्रवाई संभव है।

घटना को लेकर मंत्रिमंडल  थे नाराज

बहरहाल इस घटना को लेकर मंत्रिमंडल के अधिकांश सदस्य और कांग्रेस के विधायक डा. चोपड़ा पर लाठी बरसाने को लेकर नाराज हैं।घटना को लेकर में पुरजोर कार्रवाई के पक्ष में है। सत्ताधारी लोगों का मानना है कि इस घटना से सरकार की छवि प्रभावित हुई है। ऐसे में कड़ी कार्रवाई कर महासमुंद के जनता का विश्वास जीतने की कोशिश की जाए।

यहां पढ़े: http://पुलिस की बर्बरता पूर्वक पिटाई

घटना को लेकर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह चिंतित और गंभीर हैं। घटना की रिपोर्ट सीएम को मिलने के बाद उनके निर्देश पर महामसुंद कलेक्टर की ओर से मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए थे। हालांकि रिपोर्ट मिलने के पहले ही आईपीएस की तबादला कर दी गई।

यहां पढ़े: http://पुलिस ने कहा और सुप्रीम कोर्ट का आदेश क्या कहता है

http://शर्मनाक: लाठी चार्ज को सही साबित करने पुलिस विभाग के अफसर और कर्मचारियों ने सोशल मीडिया का लिया सहारा

 

देखिए आदेश की प्रतियां

Leave a Comment

Ek Villain Returns की हीरोइन Tara Sutaria का डेब्यू शो Katrina Kaif इस इंडस्ट्री में भी कर चुकी हैं ये काम रोहित शर्मा ने अचानक दिया बड़ा संकेत, ये धाकड़ खिलाड़ी पहले टेस्ट में करेगा विकेटकीपिंग! मौनी रॉय ने फ्लॉन्ट किया परफेक्ट फिगर Upcoming Twists: Anupamaa और अनुज की राह होगी अलग