‘जवाद’ चक्रवात का खतरा: आंध्र-ओडिशा तट से टकराएगा, छत्तीसगढ़ में भी होगा असर

रायपुर। अब ‘जवाद’ (Jawad) चक्रवात का खतरा मंडरा रहा है। यह एक चक्रवाती तूफान (Cyclonic storm) है जो बंगाल की खाड़ी में उठा है। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, यह चक्रवाती तूफान (Cyclonic storm) 4 दिसंबर को ओडिशा और आंध्रप्रदेश के तट से टकराएगा। इसके प्रभाव से उन क्षेत्रों में भारी बारिश होगी। वहीं छत्तीसगढ़ में भी 3 से 6 दिसंबर के बीच तेज हवाओं और बारिश के आसार बन रहे हैं।

छत्तीसगढ़ मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी HP चंद्रा ने बताया, प्रारंभिक सूचना के मुताबिक मध्य अंडमान सागर और उसके आसपास एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। उसके साथ ही एक ऊपरी हवा का चक्रवाती घेरा भी 5.8 किलोमीटर की ऊंचाई पर बन रहा है। गुरुवार को प्रबल होकर यह पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए अवदाब में बदल जाएगा। इसके पुनः प्रबल होकर एक चक्रवात (Cyclonic storm)  के रूप में मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर अगले 24 घंटे में पहुंचने की संभावना बन रही है।

आ रहा फिर चक्रवाती तूफान, मुंबई और गुजरात भारी बारिश जारी, ओडिशा भी अलर्ट

इसके उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ते हुए 4 दिसंबर की सुबह उत्तर आंध्र प्रदेश और उड़ीसा तट से (Cyclonic storm) टकराने की संभावना बन रही है। इसकी वजह से ओडिशा और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश होगी। अनुमान है कि ओडिशा और आंध्र प्रदेश से लगे छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती जिलों में इसके प्रभाव से तेज हवाएं चलेंगी। (Cyclonic storm) कहीं-कहीं बारिश भी हो सकती है। मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि बारिश का अधिकतर क्षेत्र दक्षिण छत्तीसगढ़ ही रहेगा।

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123

Back to top button