महासमुन्दमेरा गांव मेरा शहर

रेल अंडरब्रिज ग्रामीणों के लिए बनी मुसीबत, अंकित ने कहा हाईटेक जमाने में भी ऐसी व्यवस्था

खल्लारी विधानसभा।  बारिश छह दिन पहले ही थम गया है। लेकिन रेलवे अंडरब्रिज से अभी तक पानी नहीं उतर पाया है। ग्रामीणों के लिए अंडरब्र्रिज मुसीबत साबित हो रही है। पानी निकासी नहीं होने से खेतों में लगाए फसल खराब हो रहे हैं।

http://अंकित बागबाहरा ने कहा शिक्षा की नींव ही मजबूत नहीं कर पाई सरकार .कह रहे हमने ये क्या ?

दरअसल, रेल प्रबंधन रेलवे फाटक हटाकर आने-जाने के लिए अंडरब्रिज व्यवस्था दी है, लेकिन महासमुंद से लेकर ओडिशा सीमा सोनामूंदी तक बनाए गए दर्जनों अंडरब्रिज में पांच फीट से भी अधिक पानी भर गया है। इन रास्तों से हजारों लोगों का आवागमन होता है।

अंडरब्रिज

http://मीन राशि के जातक लेन-देन में रखें सावधानी, पढ़िए आज का सटिक राशिफल

डीआरएम को लिखे पत्र कहा हमे पुरानी व्यवस्था ही दे दो

ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों ने व्यथा रखी अंकित बागबाहरा के सामने पंचायत के समस्त निर्वाचित जनों ने डीआरएम संबलपुर के नाम अंकित के हांथो भेजा पत्र, कहा अंडरब्रिज नही पुरानी व्यवस्था ही दे दो हमे गेट चाहिए।

सबसे नीचे देखिए वीडियों

http://कल साहू समाज उल्लेखनीय कार्य करने वाले प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का करेंगे सम्मान

जानिए ऐसे हो रहे ग्रामीण परेशान

http://अंकित ने हाइवे का नाम रखा भ्रष्ट्राचार और सड़क के गड्‌ढों में लगाया कमल फूल

विगत दिनों ग्राम पंचायत बीकेबाहरा के ग्रामीण जन वर्तमान समय में अंडरब्रिज का दंश झेलने मजबूर है, खासकर जानवरों को रेल लाइन क्रास कर चारा खिलवाने में बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, स्कूल जाने आने वाले बच्चों को पटरियों के बाद उबड़-खाबड़ रास्ते बहुत परेशानी हो रही है।

http://नेताजी के आने पर सड़क में आई खुशहाली, इधर एक पिता बीमार बच्चे को कंधे में लेकर जर्जर सड़क का लिया सेल्फी

21वीं सदी में भी ऐसी व्यवस्था

अंकित बागबाहरा ग्रामीणों के बुलावे पर गांव पहुंचे और चारों ओर से अंडरब्रिज का मुआयना करने के बाद पता चला कि आज 21 वीं सदी के हाईटेक जमाने में भी इस अंडरब्रिज का कोई हल नही निकाला जा सकता, आज के हालात ये थे कि इसके कारण कई कृषकों के खेत डूब गए है ,ग्रामीणों की मांग है की हमें पुनः पुरानी व्ययवस्था लागू करवा दी जाए, इसी तारतम्य में उपस्थित जनप्रतिनिधियों,सरपंच व पंच शामिल है ने अंकित बागबाहरा को डी आर एम के नाम से पत्र सौप कर पुनः गेट प्रणाली लागू करने की मांग की है।

इस अवसर पर मुख्य रूप से अंकित बागबाहरा के साथ,ग्राम पटेल केशव साहू,नीलकंठ मानिकपुरी, सरपंच विनोद जायसवाल,पंच कमलाबाई, मुन्नी बाई, गंगा, बाबूराम, परस, अमर सिंह ठाकुर सहित बड़ी संख्या में स्कूल की छात्राएं भी उपस्थित थी जिन्होंने अपनी समस्या बताई।

http://प्रदेश के मुखिया ने हाथी भगाने दी थी गणेश पूजा सलाह, अब तो मंत्री भी कर रहे अनुष्ठान

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button