क्राइम

ट्रक में लगी आग, 30 लाख का नुकसान, सिटी कोतवाली ने 13 दिन बाद दर्ज किया एफआईआर

महासमुंद। 13 दिन पहले स्टेशन रोड में समान से भरी एक ट्रक में किसी अज्ञात ने आग लगा दी। जिससे ट्रक जलकर राख हो गया। घटना घटित होने के बाद पुलिस जांच में 13 दिन का समय लगा। जिस समय ट्रक जला, उस समय तो नुकसान का पता नहीं चल पाया। लेकिन, अब पुलिस एफआई में 30 लाख रुपए का नुकसान होना बताया जा रहा है।

पढ़िए पुलिस ने अपने एफआईआर क्या लिखा…

  • प्रार्थी हनुमान मिश्रा, चालक दीपक कुमार वर्मा, हेल्पर रज्जू उर्फ विष्णु गोपाल त्रिपाठी एवं वाहन स्वामी चंद्रमणी मिश्रा, हमाल पुनित ध्रुव, देवनाथ निषाद, लखन लाल चंद्रकार ने पुलिस को अपने कथन में यह कहा…
  • दिनांक 21 अप्रैल को प्रात: 07.30 बजे मां बम्लेश्वरी ट्रांसपोर्ट की टाटा 1518 वाहन क्रमांक CG 04 M 7892 में रोज की तरह गैराज एवं परचून सामान को स्टेशन रोड ओम एम्पोरियम के सामने वाहन सहित माल लोड था, जो 22 अप्रैल की रात्रि 01.30 बजे से 2 बजे के बीच कोई अज्ञात व्यक्ति द्वारा आग लगा दी गई।
  • जिससे ट्रक सहित माल एवं 4 नग हाथ ठेला जलकर नष्ट हो गया। जुमला किमती 20,17771 रुपए का नुकसान होना बताया गया।

अज्ञात के खिलाफ अपराध दर्ज

यहां पढ़िए…http://नवभारत समूह के डायरेक्टर के खिलाफ…

  • पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ धारा 435 अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया।
  • विभिन्न व्यक्तियों एवं दुकानदारों का सामान लोड कर दिनांक 21.04.18 की सुबह चालक चंद्रमणी मिश्रा रायपुर से लेकर महासमुंद आया था एवं कुछ ग्राहकों का सामान ग्राहकों के पास खाली कर दिया था।
  • रात्रि होने से आधा ग्राहकों का सामान खाली नहीं कर पाया था। ट्रक को स्टेशन रोड ओम एम्पोरियम के पास रोड के किनारे खड़ी किया था।

30 लाख रुपए का नुकसान

  • ट्रक को खड़ी कर ड्रायवर रायपुर चला गया था।
  • ट्रक एवं ट्रक में भरे सामान की देखरेख के लिए मुंशी रज्जू त्रिपाठी को छोड़े थे। ट्रक में बिल्टी नंबर 7912, 7920, 7868, 7867, 7930, 7917, 7933, 7895, 7896, 7871, 7886, 7845 का सामान ट्रक में लोड था।
  • पुलिस ने अपने एफआईआर में कहा है कि ट्रक में लोड ग्राहकों का सामान जलकर नुकसान हो गया।
  • ट्रक एवं ट्रक में लोड सामान जलने से करीब 30,00,000 (तीस लाख) रुपए का नुकसान होना बताया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button