महासमुंद और गरियाबंद के शातिर ठग नौकरी दिलाने के नाम ठगें लाखों रुपए, प्रदेश के 30 से अधिक बेरोजगारों को भी बनाया ठगी का शिकार

गरियाबंद। गरियाबंद छुरा Police ने दो शातिर ठगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों ने Police में नौकरी दिलाने के नाम पर 4 युवकों से साढ़े छह लाख रुपए से अधिक की ठगी की। पड़ताल में पता चला कि यह ठग तीन जिले के 30 से अधिक बेरोजगारों ठगी का शिकार बना चुके हैं। इससे पहले भी जांजगीर Police ने दोनों को नकली नोटों के मामले में गिरफ्तार किया था।

Police ने महासमुंद निवासी सबास खान और गरियाबंद निवासी मनोज साहू को गिरफ्तार किया है। दोनों आरेापियों ने छुरा के रहने वाले 4 युवकों को चपत लगाया है। वे मंत्रालय में क्लर्क हैं। उनकी अफसरों से भी ऊंची सेटिंग हैं। युवकों से कहा कि वे उनकी Police और फॉरेस्ट विभाग में अच्छी नौकरी लगवा सकते हैं। उनकी बातों में आकर युवकों ने रुपए दे दिए। लंबे समय बीतने के बाद भी जब नौकरी नहीं लगी तो युवकों ने एफआईआर दर्ज करा दी।

महासमुंद: एक गांव ऐसा जहां शाम होते ही लग रहा शराबियों का मेला…कोमाखान पुलिस थाना की दूरी महज तीन किमी, लेकिन कार्रवाई नहीं होने से खुलेआम बनाए जा रहे हाथ भट्‌ठी शराब

पहले भी जा चुके हैं जेल,

पुलिस के अनुसार, युवाओं को दोनों आरोपी तहसीलदार, Police और फॉरेस्ट विभाग में नौकरी लगवाने का झांसा देते थे। इससे पहले भी नौकरी के नाम पर ठगी करने में महासमुंद में पकड़े जा चुके हैं। वहीं जांजगीर पुलिस ने आरोपियों को नकली नोट छापने के मामले में गिरफ्तार किया था। दोनों ने कई और भी लोगों को ठगी का शिकार बनाया है। बहरहाल, दोनों जिले की Police से संपर्क कर जानकारी जुटाई जा रही है।