महासमुन्द

विधायक चोपड़ा ने कहा उन्नत तकनीक के प्रयोग से ही आर्थिक रूप से सशक्त बन सकते हैं किसान

किसान कल्याण दिवस का हुआ आयोजन

महासमुंद. बुधवार को ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा किसान कल्ययाण कार्यशाला का आयोजन किया गया।  जिले के सभी विकासखंडों के चयनित ग्रामों में यह कार्यक्रम रखा गया।  जिला स्तरीय किसान कल्याण कार्यशाला महासमुंद विकासखंड के ग्राम बरेकेल कला में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित महासमुंद विधायक डॉ. विमल चोपड़ा ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने अनेक योजनाएं बनाकर उसे प्रशासन के माध्यम से जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन कर रही हैं।

  • चोपड़ा ने कहा किसान कल्याण दिवस के रूप में कार्यक्रम का आयोजन कर किसानों को योजनाओं की जानकारी देने के साथ अलग-अलग विभाग द्वारा भी विभागीय योजनाओं का लाभ उठाने की अपील भी की जा रही है।
  • डा. चोपड़ा ने कहा कि किसान समृध्दशाली होगा तो देश भी समृध्दशाली बनेगा। किसानों की मेहनत से ही फसल उत्पादन हो रहा है, ओर इससे सबका जीवन चल रहा है।
  • शासन ने किसानों को धान बोनस, समर्थन मूल्य पर धान एवं अन्य फसलों की खरीदी, शून्य प्रतिशत पर ऋण, फसल बीमा योजना, कृषि सिंचाई योजना, सौर सुजला बीमा योजना, पशुपालन, मत्स्य पालन के माध्यम से किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने का कदम उठाया गया है। ऐसे में सभी किसान उन्नत तकनीक का इस्तेमाल कर समृध्दशाली बने।

इन अतिथियों की रही उपस्थिति

  • इस अवसर पर जनपद अध्यक्ष धरमदास महिलांग, जिला पंचायत सदस्य पुतली बाई पटेल, जनपद सदस्य योगेश्वर चन्द्राकर ने भी अपने उदबोधन में कहा कि किसान देश के लिए कितना महत्व रखता यह सभी जानते है।

योगेश्वर ने किसानों से क्या कहा पढ़िए

  • खेती किसानी का कार्य बहुत कठिन होने के बाद भी किसान फसल उत्पादन करता है।  किसानों को उन्नत तकनीक का उपयोग कर खेती करना चाहिए। जिससे किसान अधिक से अधिक फसल लेकर आर्थिक रूप से मजबूत बने।

दलहन-तिलहन फसल की दी जानकारी

  • इस अवसर पर कृषि विभाग के अधिकारियों एवं कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसानों को ग्रीष्मकाल में धान के बदले दलहन-तिलहन की खेती करने, मृदा के अनुरूप फसल लेने, फसल अवशिष्ठ प्रबंधन के बारे में जानकारी दी गई। इसके अलावा धान बीज, खाद का अग्रिम उठाव, ड्रम सिडर प्रदर्शनी, किटनाशक दवाईयों का सावधानीपूर्वक प्रयोग एवं कृषि तकनीको के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई।

किसानों को बांटी बई कृषि यंत्र

  • कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा तीन किसानों को स्प्रेयर, दो किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड, 4 किसानों को मिनी किट बीज प्रदाय किया गया। इसके अलावा पशुमेला का भी आयोजन किया गया था। इस अवसर पर कृषि विभाग के उपसंचालक व्ही.के चौबे, सहायक संचालक अमित मोहंती, वरिष्ठ कृषि अधिकारी भीमराव घोड़ेसवार तथा कृषि वैज्ञानिक सहित आसपास क्षेत्रों से आए कृषकगण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button