मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना अंतर्गत 3 करोड़ 76 लाख 70 हजार रूपए की लागत से ग्राम सुकुलदैहान को मल्टीयूटीलिटी सेंटर की मिली सौगात

0
13

राजनांदगांव। शासन की योजनाएं ग्रामीण परिवेश में महिलाओं में सामाजिक बदलाव ला रही हैं। राजनांदगांव विकासखंड के ग्राम सुकुलदैहान की बिहान महिलाओं में एक नवीन ऊर्जा, उत्साह और आत्मविश्वास है। उनके सपनों को अब परवाज मिलेगी मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना अंतर्गत 3 करोड़ 76 लाख 70 हजार रूपए की लागत से निर्मित एकीकृत सुविधा केन्द्र (मल्टीयूटीलिटी सेंटर) से। हाल ही में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसका लोकार्पण किया है। स्वसहायता समूह की महिलाओं की आर्थिक सशक्तिकरण के लिए यह एक सौगात है। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने मल्टीयूटीलिटी सेंटर में शीघ्र ही गतिविधियां संचालित करने के निर्देश दिए हैं। यहां एक साथ कई तरह की गतिविधियां संचालित होने से समूह की महिलाएं आत्मनिर्भर बनेंगी।

http://छत्तीसगढ़ में अफसरशाही के चलते MLA -सांसदों की नहीं सुनते, अब सरकार ने दिखाई सख्ती, सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया यह आदेश…

गौरतलब है कि मल्टीयूटीलिटी सेंटर टर्बा वेन्टीलेटर, सोलर लाईट एवं अन्य सुविधाओं से युक्त है। स्थानीय महिला स्वसहायता समूह की महिलाओं को इंडोर वर्क पापड़, बड़ी, आचार, सिलाई, कढ़ाई तथा ऑउटडोर गतिविधियां ईट, चेन लिंकिंग, तार फेसिंग, सीमेंट पोल, पेवर ब्लाक एवं तार का निर्माण जाएगा। जिससे स्थानीय स्तर पर यहां 20 समूह की लगभग 500 महिलाएं को प्रत्यक्ष तौर पर रोजगार उपलब्ध होगा तथा उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ होंगी। मां बम्लेश्वरी समूह की श्रीमती रूक्मणी साहू ने कहा कि महिलाओं को अब स्थानीय स्तर पर रोजगार मिलेगा और बाहर नहीं जाना पड़ेगा।यहां सायकिल से आ सके हैं और विभिन्न गतिविधियां संचालित होने से समूह की महिलाओं को लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि यहां तार फिनिंसिंग, फिनाईल, साबुन बनाने का कार्य करेंगे।

http://बेहतरीन समय आने के पूर्व मिलते हैं ये संकेत, कई रूप में आती है संपन्नता

सांई महिला स्वसहायता समूह की श्रीमती मालती साहू ने कहा कि पापड़, अचार, चिप्स बनाने का कार्य करेंगी और इसके लिए मशीन भी खरीदेंगे। श्रीमती शकुंतला अंबादे ने कहा कि वे आयुर्वेदिक मच्छर अगरबती बनाएंगे। झांसी स्वसहायता समूह की श्रीमती जयंत्री मालेकर ने कहा कि गरीब एवं जरूरतमंद महिलाओं को शासन की इस पहल से संबल मिलेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को इस सौगात के लिए तहेदिल से शुक्रिया कहा।

कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा एस घोष ने बताया कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुसार ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग द्वारा प्राथमिकता से इस मल्टीयूटीलिटी सेंटर का निर्माण किया गया है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के बीपीएम सुशील श्रीवास्तव ने बताया कि यहां एक साथ कई गतिविधियां संचालित होंगी, जिसका फायदा महिलाओं को मिलेगा। केन्द्र में शेड भी बनाएं गए हैं। नर्सरी का कार्य भी यहां महिलाएं कर सकेंगी। इस अवसर पर ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के एसडीओ बघेल भी उपस्थित थे।