आज के एपिसोड में दिखाया जाएगा कि अनुज ने धीरज और देविका को मकर संक्रांति के लिए अपने घर में आमंत्रित किया है।

वहीं देविका अनुज को गले लगाती है और मकर संक्रांति के लिए उत्साहित हो जाती है।

अनुज और अनुपमा अनु के साथ मस्ती करते हैं।

वहीं वनराज काव्या के घर लौटने का इंतज़ार करता है

उन्हें लगता है कि जयंती ने उन्हें कम समय दिया है। तोषू को बचाने के लिए लीला ने अपने गहने बेचने का फैसला किया।

वह वनराज से अपने गहने लेने के लिए कहती है। वनराज लीला को चिंता न करने के लिए कहता है

लीला अपने गहने देने पर अड़ी हुई है। काव्या घर लौट आती है। वनराज काव्या पर उगली उठाता है

साथ कि उसके चरित्र को लेकर सवाल करता है कि उसकी शूटिंग के बारे में।

वह काव्या से पूछता है कि मोहित उसके करीब आने की कोशिश कर रहा है

उसका अपमान कर रहा है। काव्या अपने करियर और मोहित के एक्शन का बचाव करती है।

वनराज मोहित पर काव्या को छूने का आरोप लगाता है। काव्या वनराज की थर्ड क्लास मानसिकता वाला बोलती है।

वह वनराज से उसके पेशे के बारे में राय बनाना बंद करने के लिए कहती है

बाद में कहती है कि वह शूटिंग नहीं कर रही थी, लेकिन मोहित के साथ मस्ती कर रही थीं।

अनुज, अनुपमा अनु को पनीर की फैक्ट्री में ले जाती है।

अनु अनुज से पूछती है कि क्या उसे याद है कि वह स्कूल प्रोजेक्ट के दौरान चीज़ फैक्ट्री जाना चाहती थी।

अनुपमा अनु से कहती है कि अनुज ने जो वादा किया है उसे कभी नहीं भूल सकता।

फैक्टर देखकर अनु खुश हो जाती है।

अनुज, अनुपमा और अनु फैक्ट्री देखते हैं।

वे गो चीज़ फैक्ट्री में चीज़ बनाना सीखते हैं।

अनुज, अनु और अनुपमा को गो चीज़ मैनेजर से गिफ्ट हैम्पर मिलता है।