नए साल पर हर कोई नई उम्मीद लगाते हैं. हर कोई चाहता है कि उसके जीवन में मां लक्ष्मी का वास हो

हर प्रकार की सुख-सुविधाएं प्राप्त हों. हर व्यक्ति यही चाहते हैं कि उसे उसकी मेहनत का पूर्ण फल मिले

अगर आप भी अपने जीवन को सुखमय बनाए रखना चाहते हैं

चाहते हैं कि मां लक्ष्मी का घर में स्थायी निवास हो तो आचार्य चाणक्य की नीतियों का पालन करना बेहद जरूरी है

आचार्य चाणक्य का कहना है कि लक्ष्मी की चाह तो हर किसी की होती है

लेकिन मां लक्ष्मी का आशीर्वाद हर किसी को नसीब नहीं होता

तो ऐसे में घर में आर्थिक समृद्धि और मां लक्ष्मी के आशीर्वाद के लिए चाणक्य की इन नीतियों का पालन बेहद जरूरी है

मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए चाणक्य का कहना है कि बिल्कुल भी दिखावा न करें

व्यक्ति को झूठ, दिखावा आदि चीजों से खुद को दूर रखना चाहिए

मान्यता है कि ये चीजें मनुष्य को अंधकार की तरफ ही ले जाती हैं

इन 3 राशियों को उनके पार्टनर कर सकते हैं शादी के लिए प्रपोज़

ऐसे में व्यक्ति कंगाल होता चला जाता है.

मां लक्ष्मी की कृपा बनाए रखने के लिए जरूरी है कि व्यक्ति धन, सुदंरता और पद इन सब का दिखाना बिल्कुल न करें.

कहा जाता है कि जिस घर में लड़ाई-झगड़े, कलह-क्लेश रहता है, वहां व्यक्ति को कभी मां लक्ष्मी की कृपा नहीं मिलती

इतना ही नहीं, जिन घरों में बुजुर्गों का सम्मान, महिलाओं की इज्जत और दूसरों के हित को नजरअंदाज किया जाता है

वहां भी मां लक्ष्मी कभी वास नहीं करती

ऐसे में इन बातों का ध्यान रखकर मां लक्ष्मी का आशीर्वाद पाया जा सकता है.

मान्यता है कि व्यक्ति अगर दिल खोलकर दान करता है

तो उसके धन में वृद्धि होती है

ऐसे में व्यक्ति को खूब दिल खोलकर दान-पुण्य का कार्य करना चाहिए

ऐसा करने से आर्थिक तंगी दूर होती है और मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है

हिंदू धर्म में दान का खास महत्व बताया गया है.