भारतीय टीम ने साल 1983 में कपिल देव की कप्तानी में ही पहला वनडे वर्ल्ड कप का खिताब जीता था

भारत के महान कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी कपिल देव अपने बेबाक बयानों के लिए चर्चा में रहे हैं

अब उन्होंने भारतीय क्रिकेट की नई सनसनी सूर्यकुमार यादव को लेकर बड़ा बयान दिया है

उन्होंने कहा है कि ऐसे खिलाड़ी सदी में एक बार आते हैं. आइए जानते हैं, इसके बारे में.

कपिल देव ने दिया ये बड़ा बयान 

भारत के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर कपिल देव ने एबीपी न्यूज को बताया, 'कभी-कभी मेरे पास शब्दों की कमी होती है कि मैं उनकी पारी का वर्णन कैसे करूं

जब हम सचिन तेंदुलकर, रोहित शर्मा, विराट कोहली को देखते हैं

तो हमें लगता है कि किसी दिन कोई ऐसा खिलाड़ी होगा. जो हमें यह सोचने पर मजबूर कर देगा कि वह भी उस सूची का हिस्सा है

'सदी में एक बार आते हैं ऐसे खिलाड़ी'

कपिल देव ने आगे बताया, 'वाकई भारत में बहुत टैलेंट है और जिस तरह की क्रिकेट वह खेलता है

वह लैप फाइन लेग के ऊपर एक शॉट मारता है, फिर इससे गेंदबाज डर जाता है

क्योंकि वह खड़ा होकर मिड-ऑन और मिड-विकेट पर छक्का मार सकता है. यही शॉट गेंदबाजों की लाइन और लेंथ को बिगाड़ देता

सोचने पर मजबूर करता है कि आगे क्या योजना बनाऊं.'

'मैंने डिविलियर्स, विवियन रिचर्डस, सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, रिकी पोंटिंग जैसे महान बल्लेबाज देखे हैं

लेकिन बहुत कम लोग गेंद को इतनी सफाई से हिट कर पाते हैं. सूर्यकुमार यादव को सलाम.

इस तरह के खिलाड़ी सदी में एक बार ही आते हैं

श्रीलंका के खिलाफ राजकोट में सूर्यकुमार यादव ने तूफानी पारी खेली

उन्होंने सिर्फ 51 गेंदों पर 112 रनों की शानदार पारी खेली

1 रुपये के शेयर में लगाया होता पैसा तो आज मिलते पूरे 54 लाख

उन्होंने टीम इंडिया को पांच विकेट के नुकसान पर 228 रनों का विशाल स्कोर खड़ा करने में मदद की

जिसके बाद गेंदबाजों ने मेहमान टीम को सिर्फ 137 रनों पर समेट दिया और टीम इंडिया ने सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली

शतक जड़ने के बाद भी सूर्यकुमार यादव को टीम इंडिया से किया जाएगा बाहर