नेशनल क्रश कही जाने वालीं रश्मिका ने सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ स्टेज पर एक रोमांटिक गाना परफॉर्म किया.

गाने के बाद उन्होंने कहा कि मेरे लिए बचपन से रोमांटिक गानों का मतलब रहा है,

बॉलीवुड के गाने. इतना होता तब भी ठीक था, परंतु रश्मिका ने आगे कहा कि साउथ की फिल्मों के गाने बहुत मसालेदार आइटम नंबर होते हैं

जिनमें रोमांस नहीं होता. खूब सारा डांस होता है. जैसे ही रश्मिका के इस बयान की क्लिप सोशल मीडिया में पहुंची,

वायरल हो गई. साउथ की फिल्मों के दर्शक रश्मिका को ट्रोल करने लगे कि उन्होंने दक्षिण भारतीय फिल्मों तथा उनके संगीत का अपमान किया है.

रश्मिका को ट्रोल करने वालों ने लिखा कि उन्होंने बिल्कुल तथ्यहीन बात क है और खुद अपनी नासमझी दुनिया के सामने रख दी है

उनकी यह बात बहुत ही गलत है. एक यूजर ने रश्मिका से पूछा कि क्या आप हमारे ए.आर. रहमान और इल्लया राजा के गानों को भूल गई हैं

कई लोगों का कहना है कि रश्मिका को कहना चाहिए था कि वह तेलुगु फिल्मों के आइटम गानों की बात कर रही हैं,

जिसमे पुष्पा-1 में उनके आइटम नंबर जैसे गाने शामिल हैं. जबकि कुछ ने तो बॉलीवुड को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हिंदी फिल्मों में साउथ से ज्यादा आइटम नंबर होते हैं

साउथ की फिल्मों के मुकाबले ज्यादा अश्लील ढंग से फिल्माए जाते हैं.