भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने बुधवार को कहा कि स्टार विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत ‘लिगामेंट की चोट की सर्जरी कराने के लिए पूरी तरह तैयार हैं’

जिसके कारण वह अनिश्चित काल के लिए प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से बाहर हो जाएंगे.

ऋषभ पंत का होने वाला है ये बड़ा ऑपरेशन

बीसीसीआई ने पंत को एयर एंबुलेंस से मुंबई ले जाने का फैसला किया

क्योंकि वह किसी व्यावसायिक एयरलाइन से उड़ान भरने की स्थिति में नहीं थे

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा, ‘30 दिसंबर को एक कार दुर्घटना के बाद मैक्स अस्पताल

देहरादून में इलाज करा रहे ऋषभ को एयर एंबुलेंस में मुंबई लाया जाएगा

जैसा कि पीटीआई ने पहले बताया था पंत का इलाज प्रसिद्ध खेल ऑर्थोपेडिक सर्जन दिनशॉ परदीवाला करेंगे

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा, ‘उन्हें कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल और चिकित्सा अनुसंधान संस्थान में भर्ती कराया जाएगा

अस्पताल में सेंटर फॉर स्पोर्ट्स मेडिसिन के प्रमुख और ऑर्थोस्कोपी एंड शोल्डर सर्विस के निदेशक डॉ. दिनशॉ परदीवाला की सीधी निगरानी में उनका इलाज होगा

ऋषभ की लिगामेंट की चोट के लिए सर्जरी होगी और उन्हें बाद की प्रक्रियाओं से गुजरना होगा

उनके उबरने और रिहैबिलिटेशन के दौरान बीसीसीआई की चिकित्सा टीम उनका ध्यान रखेगी

शाह ने कहा, ‘बोर्ड ऋषभ की उबरने की प्रक्रिया में सहायता और तेजी लाने के लिए हर संभव प्रयास करेगा

इस अवधि के दौरान उसे हर संभव सहायता प्रदान करेगा.’ 25 साल के पंत एक भयानक कार दुर्घटना में बाल-बाल बच गए थे

जब वह दिल्ली से अपने गृहनगर रुड़की जा रहे थे

लेकिन राष्ट्रीय राजमार्ग 58 पर नियंत्रण खो बैठे और उनकी कार डिवाइडर से टकरा गई

पंत के माथे पर चोट के निशान थे, पीठ में गंभीर चोट के साथ-साथ उनके घुटने और टखने में चोट लगी

अधिकांश चोटें हल्की थी, लेकिन टखने और घुटने की चोट चिंताजनक है

हालांकि बीसीसीआई से एक केंद्रीय अनुबंधित क्रिकेटर होने के कारण उनकी चोट का इलाज बोर्ड का विशेषाधिकार है

उनके घायल घुटने और टखने का एमआरआई नहीं किया जा सका

क्योंकि काफी सूजन थी. हालांकि यह समझा जाता है

कि केंद्रीय अनुबंधित क्रिकेटर के लिए किसी भी खेल संबंधी चोट का उपचार बीसीसीआई के तय डॉक्टरों द्वारा किया जाएगा

डॉ नितिन पटेल के नेतृत्व में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में खेल और चिकित्सा विज्ञान टीम की देखरेख में रिहैबिलिटेशन होगा

पंत अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज और लुभावनी इंडियन प्रीमियर लीग में नहीं खेल पाएंगे