कार दुर्घटना के बाद ऋषभ पंत के ‘लिगामेंट टीयर’ के बारे में स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है

लेकिन अगर बीसीसीआई (BCCI) के सूत्रों की मानें तो वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 टेस्ट मैचों की आगामी में नहीं खेल पाएंगे

इससे टीम इंडिया को तगड़ा झटका लग सकता है

लेकिन टीम इंडिया में कई युवा प्लेयर्स हैं, जो टेस्ट मैचों में पंत की जगह खेल सकते हैं.

लंबे समय तक हो सकते हैं बाहर

ऋषभ पंत प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से लंबे समय तक बाहर हो सकते हैं और इस समय कोई भी तारीख बताना जल्दबाजी होगी

नई चयन समिति के लिए बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के लिए 2 विकेटकीपर बल्लेबाजों का चयन सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक होगा.

इन प्लेयर्स के बीच होगी जंग

भारतीय टेस्ट विकेटकीपर के स्थान के लिए अचानक दौड़ शुरू हो जाएगी

यह देखना दिलचस्प होगा कि नौ फरवरी से नागपुर में शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज में खेलने के लिए 3 खिलाड़ियों केएस भरत दूसरे विकेटकीपर उपेंद्र यादव और सफेद गेंद के विशेषज्ञ ईशान किशन में से किसे चुना जाता है.

ऋषभ पंत शुक्रवार की सुबह दिल्ली से रुड़की जाते हुए अपनी मर्सीडिज कार पर नियंत्रण खो बैठे थे

जिससे यह डिवाइडर से टकरा गई. उनका मैक्स देहरादून में इलाज चल रहा है

हालांकि ‘एक्स-रे’ और ‘सीटी स्कैन’ की रिपोर्ट में कोई फ्रेक्चर, मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में कोई चोट नहीं आई है

लेकिन उनके घुटने और टखने में कई ‘लिगामेंट टीयर’ (लिगामेंट फटना) के कारण वह निश्चित रूप से काफी समय तक बाहर रहेंगे

यह समय दो से छह महीने के बीच हो सकता है जो ‘लिगामेंट टीयर’ के ग्रेड पर निर्भर करता है

BCCI के एक सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई से कहा, ‘अभी काफी सूजन है

जिससे टखने और घुटने का MRI अभी किया जाना है.

एक बार वह यात्रा के लिए फिट हो जाएगा तो वह मुंबई आएगा, जहां वह बोर्ड के पैनल में शामिल डॉक्टर दिनशॉ पारदीवाला की निगरानी में होगा.’

नई चयन समिति के पास 3 विकल्प होंगे. या तो भारत-ए के 2 विकेटकीपर केएस भरत और उपेंद्र मुख्य टीम में शामिल होंगे

फिर विस्फोटक विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन टीम में जगह बनाएंगे

केएस भरत बहुत ही शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. वह पहले भी कई दौरों पर टीम इंडिया का हिस्सा बन चुके हैं

उनकी विकेटकीपिंग स्किल भी कमाल की है. वह IPL में RCB टीम को कई मैच जिता चुके हैं.