भारत ने श्रीलंका के खिलाफ दूसरे वनडे में शानदार जीत दर्ज की थी

सीरीज में टीम इंडिया ने 2-0 से अजेय बढ़त बना रखी है. दूसरे वनडे के दौरान एक घटना काफी चर्चा का विषय रही है

जिसमें टीम के कप्तान रोहित शर्मा  ने अपना बड़ा दिल दिखाते हुए मेहमान टीम के कप्तान दसुन शनाका  का शतक बनवा दिया था

लेकिन टीम इंडिया के फिरकी मास्टर अश्विन को हिटमैन की दरियादिली रास नहीं आई है

उन्होंने इस मुद्द को हवा देते हुए अपनी खरी प्रतिक्रिया दी है.

आर अश्विव माकड़ रन आउट को लेकर अक्सर बोलते नजर आते हैं

इस बार बात अपनी ही टीम की थी, इसके बावजूद अश्विन ने इसे लेकर चुप्पी तोड़ दी है.

दरअसल, दूसरा वनडे पूरी तरह से भारत की गिरफ्त में आ चुका था. आखिरी ओवर में गेंद मोहम्मद शमी के हाथों में थी. वहीं

श्रीलंका के कप्तान 98 रन पर दूसरे छोर पर खड़े थे. लेकिन शमी के गेंद फेंकने से पहले ही उन्होंने क्रीज छोड़ दी

शमी ने उन्हें नहीं बख्शा. लेकिन कप्तान रोहित शर्मा ने बड़ा दिल दिखाते हुए अपील वापस ले ली थी.

उन्होंने मैच के बाद कहा था कि वह 98 पर बल्लेबाजी कर रहे थे हम ऐसे उन्हें नहीं आउट कर सकते

लेकिन हिटमैन के इस फैसले पर अश्विन ने खुलकर बात की है.

दूसरे वनडे की घटना को लेकर अश्विन ने कहा, ‘शनाका 98 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे,

तब शमी ने उन्हें दूसरे छोर पर रन आउट किया फिर अपील भी की. रोहित ने वह अपील वापस ले ली

कई लोगों ने इसपर बाद में ट्वीट किया. मैं बस एक ही बात दोहराता जा रहा हूं दोस्तों, खेल की स्थिति सारहीन है

यह आउट करने का एक सही तरीका है. अगर आप LBW या कैच की अपील करते हैं

तो कोई भी कैप्टन से कौन बनेगा करोड़पति में सरथ कुमार या अमिताभ बच्चन की तरह नहीं पूछता है कि क्या वे अपील के साथ आश्वस्त हैं या नहीं

उन्होंने आगे कहा, ‘यदि गेंदबाज किसी आउट के लिए अपील करता है

और वह आउट है तो उसको आउट करार दिया जाएगा.

यदि कोई फील्डर अपील करता है तो अंपायर का कर्तव्य है कि वह उसे आउट दें.’