कर्क राशि

शनि की बदली चाल के कारण कर्क राशि वालों पर ढैय्या लगने वाली है.

यह अवधि आपके लिए फलदायी नहीं है

सबसे ज्यादा असर आपकी हेल्थ पर पड़ेगा. परिवार की समस्याएं परेशान कर सकती हैं

वर्कप्लेस पर भी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा

पैसों के मामलों में सतर्कता बरतें और सोच-समझकर ही खर्च करें.

पैसों की तंगी का सामना भी करना पड़ सकता है

उधार लेने तक की नौबत आ सकती है.

क्या करें उपाय: ओम प्रां प्रीं प्रौं स: शनये नम: मंत्र का प्रतिदिन जप करें.

वृश्चिक

शनि के कुंभ राशि में जाते ही वृश्चिक राशि वालों की भी ढैय्या प्रारंभ हो जाएगी

शनि वृश्चिक राशि के चौथे भाव में गोचर करेंगे. यह वक्त आपके लिए अच्छा नहीं रहेगा

आप दिल और छाती की बीमारियों से पीड़ित रह सकते हैं. हेल्थ और खान-पान का काफी ध्यान रखें

संपत्ति को लेकर विवाद पैदा हो सकता है. नियमित स्रोतों से भी इनकम हासिल करने में मुश्किलें पैदा होंगी.

क्या करें उपाय: हनुमान जी की आराधना करें. मंगलवार और शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें.

मकर

मकर राशि से ही निकलकर शनिदेव कुंभ राशि में जाएंगे

लेकिन मकर राशि वालों को साढ़ेसाती से राहत नहीं मिलेगी

इन राशि वालों के लिए उतरती साढ़ेसाती शुरू होगी. मान-सम्मान को लेकर आपको ज्यादा सावधान रहना होगा

स्वास्थ्य से जुड़ी कुछ परेशानियां रह सकती हैं. चोट भी लग सकती है

हालांकि घर में शांति रहेगी. मगर क्लेश होता ही रहेगा

यह अवधि नौकरीपेशा लोगों को मध्य फल देगी. काम में लापरवाही न बरतें.

उपाय: सात मुखी रुद्राक्ष धारण करें. लेकिन किसी जानकार से सलाह ले लें.

मीन

मीन राशि वालों के लिए शनि गोचर से साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू हो जाएगा

आपको यात्राओं का कोई फल नहीं मिलेगा. स्वास्थ्य को लेकर परेशान रह सकते हैं

नई और पुरानी बीमारियां फिर बढ़ सकती हैं. वाणी में कड़वाहट रह सकती है

नौकरीपेशा लोग संभलकर रहें और उनका ट्रांसफर हो सकता है.

अगर कारोबार विस्तार का सोच रहे हैं तो उसको अभी ठंडे बस्ते में डाल दें.

क्या हैं उपाय: हर रोज पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं और शनिवार को सरसों के तेल का दीपक जलाएं.

मिथुन

कुंभ में शनि के जाने से मिथुन राशि वालों को अष्टम ढैय्या से निजात मिलेगी

आय नियमित रहेगी लेकिन खर्चों को कंट्रोल में रखें

अगर कहीं निवेश का सोच रहे हैं तो थोड़ा सतर्क रहें.

क्या हैं उपाय: पांच कैरेट या फिर उससे ज्यादा वजन का नीलम दाएं हाथ में पहनें. लेकिन किसी जानकार से सलाह ले लें.