क्या है बेहतरीन SEX दांपत्य? नई खुलासा में सामने आया ये कारण, जानें 5 बातें

बेहतरीन SEX दांपत्य: खुबसूरत सेक्स जीवन का 'राज' क्या है, इसको लेकर एक नई खुलासा सामने आई है. जानिए 5 अहम बात...

बेहतरीन SEX दांपत्य: SEX एक ऐसा सबजेक्ट है, जिसके बारे में जितना समझा जाए कम है। सेक्स असल जिंदगी का भरपूर आनंदित विषय है। किसी भी दांपत्य के मजबूत रिश्ते के पीछे सेक्स जीवन का बहुत अहम योगदान रहता है. सामाजिक दृष्टिकोण से सेक्स को लेकर लोगों की कई धारणा है।

हाल ही में इंटीमेसी और बेहतर सेक्स लाइफ (sex life) को लेकर एक स्टडी की गई है. नई स्टडी के मुताबिक, इंटीमेसी एक ऐसी स्थिति है, जो शरीर से अधिक मानसिक रूप से जुड़ी होती है. ये स्टडी कनाडा के ओटावा यूनिवर्सिटी में मनोवैज्ञानिक और सेक्स थेरेपिस्ट डॉक्टर पैगी जे क्लेनप्लात्ज ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर की है. डॉक्टर पैगी प्रसिद्ध किताब मैग्निफिकेंट सेक्स की लेखिका भी हैं.

स्टडी के अनुसार, शोधकर्ता कहते हैं कि सेक्स खुद के साथ-साथ अपने पार्टनर को भी करीब से जानने का एक तरीका है. स्टडी में शोधकर्ताओं ने सेक्स लाइफ (sex life) को बेहतर बनाने के लिए कुछ खास बातें बताई हैं. नीचे जानिए उनके बारे में…

आप पूरी निष्ठा के साथ अपने पार्टनर के साथ ही रहें

सेक्स लाइफ (sex life) को बेहतर बनाने के लिए शोधकर्ताओं का कहना है कि आज के वक्त में लोगों को अपने-अपने सोशल मीडिया से चिपके रहने की आदत हो गई है. इस आदत के चलते वो इंटीमेसी के समय भी फोन चेक करते रहते हैं. ऐसे में वह शारीरिक तौर पर तो पार्टनर के साथ होते हैं, लेकिन उनका दिमाग कहीं और चलता रहता है. जबकि शारीरिक संबंध बनाने के समय अपने पार्टनर के साथ पूरी तरह से इन्वॉल्व होना बेहद जरूरी है. इसके लिए आपको हर एक चीज को महसूस करने की आदत डालनी चाहिए.

क्या फिर लगेगा लॉकडाउन? तीसरी लहर को लेकर वैज्ञानिकों ने जताया अनुमान

अपने आप के प्रति उदार होना जरूरी है

शोधकर्ता कहते हैं कि ज्यादातर लोगों में सेक्स फैंटसीज (sex life) को लेकर एक डर होता है कि कहीं उनका पार्टनर उन्हें गलत ना समझ ले या फिर उनकी इच्छाओं को खारिज ना कर दें. शोधकर्ताओं के अनुसार, अगर आप सेक्स की गहराईयों को समझना चाहते हैं तो आपको सेल्फ अवेयरनेस बढ़ाने की बहुत जरूरत है. इसके लिए सबसे बढ़िया तरीका है कि आपका खुद के प्रति उदार रहना होगा. इसके लिए अपनी कल्पनाओं को स्वीकार करना सीखें भले ही वो कैसी भी हों. अगर अपने पार्टनर पर पूरा भरोसा है तो बिना झिझके आप उनसे अपनी फैंटसीज शेयर करें

SEX की डेफिनेशन को ज्यादा व्यापक बनाने की जरूरत

शोधकर्ताओं का कहना है कि लोगों को अपनी SEX फैंटसीज को भी पहचानना चाहिए. उनका ये भी कहना है कि आमतौर पर लोग सेक्स के बारे में एक ट्रेडिशनल सोच रखते हैं. कई लोगों की SEX लाइफ (sex life) इसी पैटर्न पर चलती है कि हमें पार्टनर के साथ ये करना है और ये नहीं करना है. फिजिकल इंटीमेसी को लोग सीधे तौर पर इंटरकोर्स ही समझते हैं, जबकि इसके अलावा भी कई चीजें मायने रखती हैं. जैसे कि पार्टनर को किस करना, फोरप्ले, सेक्स टॉक और टचिंग जैसी चीजें. इससे आपको समझने में मदद मिलती है कि पार्टनर के साथ किस तरह आगे बढ़ना चाहिए.

स्वयं के प्रति ईमानदार रहना जरूरी

अधिकतर लोगों को ये स्वीकार करने में झिझक महसूस होती है कि बेडरूम में उन्हें क्या अच्छा लगता है और क्या नहीं. शोधकर्ता कहते हैं कि जब तक आप इसे स्वीकार नहीं करेंगे तो SEX को पूरी तरह एंजॉय नहीं कर पाएंगे. इसके लिए सबसे पहले अपने पार्टनर को बताएं कि आप उनसे कुछ बात करना चाहते हैं. फिर उन्हें बताए कि आपको क्या अच्छा लगता है और पार्टनर की किस हरकत पर आप नर्वस हो जाते हैं और क्यों.

प्रारंभ से ही बात करते रहना भी जरूरी है

शोधकर्ता कहते हैं कि रिलेशनशिप की शुरुआत से ही खुलकर SEX की बातें करने से चीजें बेहद सरल और आसान हो जाती हैं. जैसे कि एक-दूसरे के साथ फीडबैक शेयर करना, अच्छी-बुरी बातें बताना. इससे आप अपने बेडरूम में क्या चाहतें हैं, इसको लेकर स्पष्टता रहती है. सेक्स को गंभीरता से लेने की बजाय इसे थोड़ा मस्ती-मजाक की तरह लें और हर काम की तरह इसे भी प्राथमिकता दें.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ जागरुक करने के उद्देश्य से दी जा रही है.

Back to top button