क्या? मुसीबत का लॉकडाउन फिर छत्तीसगढ़ में बढ़ सकता है! सख्ती के बावजूद संख्या में कमी नहीं

रायपुर। बीते 21, 22 दिन से लोग घरों में लॉकडाउन हैं। मानसिक परेशानी से लेकर आर्थिक परेशानी तक लोग जुझ रहे हैं। ऐसे में अब 5 मई के बाद लॉकडाउन ओपन होगा कि नहीं यह संशय बनी हुई है। हालांकि जिस तरह प्रदेश में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमण की रफ्तार में कमी नहीं आई है। यदि आगे भी लॉकडाउन बढ़ा दी गई तो रोज कमाने खाने वाले लोगों के लिए यह एक दर्दभरा समय होगा?

बतादें छत्तीसगढ़ में करीब 1 लाख 19 हजार एक्टिव कोरोना मरीज और 8 हजार 581 मौतों से थर्राया  चुका है। इस संक्रमण से बचने के सरकार सभी उपाय कर रहे हैं। संक्रमण पर काबू पाने छत्तीसगढ़ में सिर्फ अप्रैल में ही दो बार लॉकडाउन (Lockdown) बढ़ाया जा चुका है और इसे तीसरी बार भी बढ़ाने की तैयारी चल रही है। बताया जा रहा है कि CM हाउस से जिलों के प्रभारी मंत्रियों से कहा गया है कि वे कलेक्टर से लगातार चर्चा करें, जिलों के हालात की समीक्षा करें और जहां जरूरी है वहां लॉकडाउन (Lockdown) बढ़ाने का निर्णय लें। माना जा रहा है कि सरकार 3 मई को लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला कर सकती है।

22 के (Lockdown) के बाद मिले करीब 15 हजार संक्रमित

प्रदेश में कोविड के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। रायपुर, दुर्ग और राजनांदगांव में जरूर मरीज कम हुए हैं, लेकिन बाकी जिलों में हालात नहीं संभल रहे हैं। 30 अप्रैल को 22 दिन के Lockdown के बाद भी प्रदेश में 14 हजार 994 मरीज मिले हैं। 200 से अधिक मौतें भी हुई हैं। प्रदेश में अभी भी कोरोना मरीजों के लिए पर्याप्त बिस्तर, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर नहीं हैं। अस्पताल के बाहर दाखिले का इंतजार करते मरीजों की भीड़ बनी हुई है। लॉकडाउन (Lockdown) बढ़ाने का फैसला सरकार को इसलिए भी लेना पड़ेगा, क्योंकि इस समय कोरोना का हॉटस्पॉट गांव व छोटे जिले हो रहे हैं।

राहत: छत्तीसगढ़ के इस जिले में स्टेशनरी, कम्प्यूटर दुकानों को खोलने की अनुमति, DM ने जारी किए आदेश

छोटे जिले में भी तेजी से बढ़ रहे संक्रमित मरीज

कांकेर, जशपुर, कोरिया, महासमुंद जैसे छोटे-छोटे जिलों में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रहा है। और आंकड़े रोज 500 के पार जा रहे हैं, जबकि यहां टेस्टिंग अभी उस रफ्तार से हो नहीं रही है। यहां मौतों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। ऐसे तकरीबन सभी छोटे जिलों में संक्रमित मरीज बढ़ रहे हैं और वहां पर्याप्त चिकित्सा सुविधा नहीं है, लिहाजा इस स्थिति को कंट्रोल करने के लिए सरकार को एक और लॉकडाउन लगाना ही होगा। सूत्रों के अनुसार, 3 मई को CM कलेक्टर्स को फिर कह सकते हैं कि वे अपने जिलों के हालात को देखते हुए फैसला लें। ऐसे में कहा जा रहा है कि अधिकांश जिलों में 15 तारीख तक लॉकडाउन (Lockdown) बढ़ाया जा सकता है।

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123