Whatsapp ने इंडिया में बंद किए 20 लाख Accounts, स्पैम और अनचाहे Messages को रोकने कदम उठाया

0
35
webmorcha.com
WhatsApp वैक्सीनेशन

मैसेजिंग ऐप Whatsapp ने अगस्त में इंडिया में 20 लाख से भी अधिक यूजर्स के Accounts बंद किए हैं। यह कार्रवाई इंडिया के IT नियमों और Whatsapp की सेवा शर्तों का उल्लंघन करने वाले अकाउंट्स के खिलाफ की गई है। मंगलवार को जारी की गई वॉट्सऐप की मंथली कंप्लायंस रिपोर्ट से यह जानकारी सामने आई है।

डेढ़ माह के भीतर बंद किए थे 3 लाख Accounts

Whatsapp ने इंडिया में 16 जून से 31 जुलाई तक 3 लाख Accounts को बंद किया था। यह कार्रवाई 594 शिकायतों के आधार पर की गई थी। विश्वभर में दुरुपयोग के मामलों पर वॉट्सऐप औसतन हर महीने 80 लाख अकाउंट्स को बैन करता है।

शिकायत के आधार पर यूसर पर कार्रवाई

बिना अनुमति के ऑटोमैटेड या बल्क Messages भेजे जाने की वजह से 20 लाख 70 हजार अकाउंट पर बैन लगाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगस्त के दौरान Whatsapp को 420 शिकायतें मिली थीं। इसमें अकाउंट सपोर्ट की 105, बैन अपील की 222, प्रोडक्ट सपोर्ट की 42, सिक्योरिटी की 17 और दूसरे सपोर्ट की 34 शिकायतें शामिल थीं।

दुरुपयोग रोकने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल

Whatsapp के प्रवक्ता ने बताया कि यूजर सिक्योरिटी रिपोर्ट में शिकायतों की जानकारी दी गई है। प्लेटफॉर्म के दुरुपयोग को रोकने के लिए वॉट्सऐप अपनी कार्रवाई जारी रखेगा। हमारा ध्यान प्लेटफॉर्म पर स्पैम और अनचाहे मैसेजेस को रोकने पर है।

धमतरी: सोना-चॉदी की दो दुकान से 1 करोड़ गहने की चोरी

Whatsapp ने अपने सपोर्ट पेज में बताया है कि वह शिकायत चैनल के माध्यम से यूजर की शिकायतें दर्ज करता है। मैसेजिंग ऐप प्लेटफॉर्म पर हार्मफुल बिहेवियर को रोकने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टूल्स और रिसोर्सेस का इस्तेमाल करता है।

नए IT नियमों के अनुसार हर महीने रिपोर्ट पब्लिश करना जरूरी

भारत सरकार ने 26 मई को नए IT नियम लागू किए थे। इन नियमों के अनुसार, 50 लाख से अधिक यूजर वाले किसी भी डिजिटल प्लेटफॉर्म को हर महीने कंप्लायंस रिपोर्ट पब्लिश करना जरूरी है। इस रिपोर्ट में मिली शिकायतों और उनके आधार पर हुई कार्रवाई की जानकारी देनी होगी।

यूजर की जानकारी नहीं पढ़ता Whatsapp

Whatsapp ने इस बात पर जोर दिया है कि वह किसी भी यूजर के मैसेज को नहीं पढ़ता। यह एक एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड प्लेटफॉर्म है। इसमें यूजर की जानकारी सुरक्षित है। प्लेटफॉर्म (platform) कार्रवाई के लिए उपलब्ध अन-एन्क्रिप्टेड जानकारी पर निर्भर करता है। इनमें यूजर रिपोर्ट, प्रोफाइल फोटो, ग्रुप फोटो और ग्रुप डिस्क्रिप्शन शामिल है।