दूसरों बचाते-बचाते नर्स खुद कोरोना से हार गई जिंदगी…आपत आई तो समय पर इन्हें नहीं मिली उपचार

​​जांजगीर। पूरे देश में कोरोना वॉरियर दूसरों की जान बचाते-बचाते खुद अपनी जिंदगी की जंग लगातार हार रहे हैं। स्थिति ये रहा कि जब इनके उपर आफत आई तो इन्हें ही ठीक से उपचार नहीं मिल सका। कुछ ऐसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ के जांजगीर में एक नर्स टीकाकरण करते समय खुद संक्रमित हो गई। ऑक्सीजन लेवल कम होने पर परिजन ECTC (Exclusive Covid Treatment Center) ले गए, वहां बेड ही नहीं मिला। मजबूरन में महुदा कोविड केयर सेंटर में एडमिट कराया। तबीयत अधिक बिगड़ी तो फिर 4 दिन बाद ECTC लेकर पहुंचे। इस बार उन्हें बेड तो मिला, पर सांसे टूट गई।

जानकारी के अनुसार, बलौदा ब्लॉक के देवरहा पिसौद गांव निवासी नर्स द्रोपदी तिवारी (61) ग्राम जर्वे के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (Primary Health Centre) में कार्यरत थीं। उनकी ड्यूटी विभाग की ओर से टीकाकरण में लगी थी। स्वास्थ्य वर्कर होने के कारण वैक्सीन (vaccine) की एक डोज उन्हें 25 दिन पहले लग चुकी थी। दूसरी डोज उन्होंने नहीं लगवाई थी। इस दौरान सेंटर में आने वालों को वैक्सीनेशन (Vaccination) कर रही थीं। इसी बीच उनकी तबीयत बिगड़ गई। कोरोना के लक्षण होने के कारण वह होम आइसोलेशन में चली गईं और टेस्ट कराया।

छत्तीसगढ़: विवाह के दूसरे दिन ही दुल्हन ने कर ली आत्महत्या…जांच में जुटी पुलिस

कोविड केयर सेंटर में तबीयत अधिक बिगड़ गई

BPM पार्थ सिंह के अनुसार, नर्स द्रौपदी तिवारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। 22-23 अप्रैल से वे होम आइसोलेशन में थीं। इस बीच तबीयत अधिक बिगड़ने पर परिजन उन्हें उपचार के लिए ECTC लेकर आए, लेकिन बेड खाली नहीं होने के कारण भर्ती नहीं किया जा सका। इसके बाद उन्हें फिर से महुदा के कोविड केयर सेंटर भेज दिया गया। वहां उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हो रहा था। इसके बाद 26 अप्रैल को फिर ECTC भेजा गया, लेकिन वहां पर उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

जब उपचार के लिए ECTC लाए, तब ऑक्सीजन सेचुरेशन 40 था

डॉ. रामायण सिंह, कोविड केयर सेंटर महुदा ने बताया  जब नर्स को अस्पताल (Hospital) लाया गया तो उनका ऑक्सीजन सेचुरेशन (Oxygen saturation) लेवल 40 था। गंभीर स्थिति में एडमिट करने के बाद इलाज शुरू होने पर ऑक्सीजन लेवल (Oxygen level) 65-70 तक पहुंच गया था। इसके बाद उन्हें ECTC में उपचा के एडमिट किया गया था। जहां उनकी मौत हो गई है।

छत्तीसगढ़: फिर सुहाना होगा मौसम शुक्रवार से आगामी दो दिन गरज के साथ बौछारें