WHO की चेतावनी, अभी खत्म नहीं हुआ महामारी… और कई लहर आएंगी, भारत को लेकर कही ये बड़ी बात

नई दिल्ली। WHO की चेतावनी:  कोविड संक्रमण की दूसरी लहर ने देश में बहुत ही कोहराम मचा है और अभी भी हम इस महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहे हैं. इस बीच वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) की चीफ साइंटिस्ट ने चेतावनी दी है कोविड संक्रमण महामारी की अभी कई लहर आ सकती हैं. डब्लूएचओ की चीफ साइंटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन ने कोरोना की आगामी लहर को देखते हुए कहा है कि भारत के लिए आगामी 6-18 महीने बेहद खास होंगे.

इंडिया को लेकर कही ये बड़ी बात

सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि इंडिया में पाया गया कोरोना वायरस का B 1167 वैरिएंट बहुत संक्रामक है और यह ब्रिटेन में पाए गए B 117 वैरिएंट से भी अधिक डेंजर हो सकता है. उन्होंने कहा कि इससे बचने के लिए भारत को अगले 6-18 महीने सावधान रहना होगा और अपनी स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करना होगा. WHO की चीफ साइंटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि भारत को अपने वैक्सीनेशन प्रोग्राम की गति भी तेज करनी होगी, तभी भारत के लोग महामारी की आगामी लहरों से बच पाएंगे.

देश में अब तक सभी रिकार्ड टूटे, 24 घंटे में 4340 लोगों ने कोरोना से गंवाई जान, नए संक्रमण में आई कमी

दरअसल कोविड वायरस में म्यूटेशन के चलते बदलाव आता है और यही बदलाव कई बार इस वायरस को काफी संक्रामक बना देता है. बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर में इसके वैरिएंट बी 1167 एक बड़ी वजह रहा. इसके संक्रमण से मरीजों में सांस लेने में दिक्कत, शरीर में ऑक्सीजन की कमी जैसी परेशानियां हुई. इसी के चलते देश में ऑक्सीजन की कमी हुई और बड़ी संख्या में मरीज अस्पताल में भर्ती हुए. जिससे बेड की कमी भी देखने को मिली.

हमारी वैक्सीन प्रभावी

WHO ने इस बात से देशवासियों को राहत दी है कि भारत में लगाई जा रहीं कोरोना की वैक्सीन कोवैक्सिन और कोविशील्ड कोरोना के नए स्ट्रेन के खिलाफ भी प्रभावी हैं. ऐसे में अगर देश में कोरोना वैक्सीनेशन के काम में तेजी आ जाए तो हम कोरोना की आगामी लहरों से बच सकते हैं.

गुजरात से टकराया ‘ताउते, 2 लाख लोगों को सुरक्षित स्थान में भेजा, महाराष्ट्र में 6 की मौत

हमसे जुड़िए

https://twitter.com/home             

https://www.facebook.com/?ref=tn_tnmn

https://www.facebook.com/webmorcha/?ref=bookmarks

https://webmorcha.com/

https://webmorcha.com/category/my-village-my-city/

9617341438, 7879592500,  7804033123