ज्योतिष/धर्म/व्रत/त्येाहार

आपसी भाईचारे और प्रेम से रहेंगे, तभी रामराज्य की परिकल्पना होगा संभव: संसदीय सचिव

त्रिदिवसीय अखंड रामायण समारोह में शामिल हुई रूपकुमारी चौधरी

पिथौरा। ग्राम सरकड़ा में त्रिदिवसीय अखंड रामायण समारोह का आयोजन किया गया।

  • इस धार्मिक कार्यक्रम में पहुंची संसदीय सचिव एवं क्षेत्रीय विधायक रूपकुमारी चौधरी ने कहा कि भगवान श्रीराम को आदर्श मानकर सत्य के मार्ग पर चलने से आप कभी असफल नहीं होंगे।
  • आज के इस परिवेश में रामचरित मानस जीवन जीने की कला सिखाती है, उसे अपने वास्तविक जीवन में उतारने की आवश्यकता है।
  • उन्होंने कहा कि आप सभी आपसी भाईचारे और प्रेम से रहेंगे, तभी रामराज्य की परिकल्पना संभव है। रामचरित मानस पढ़ने, सुनने एवं अपने जीवन में उतारने से विजय, विवेक एवं ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।
  • रामचरित जीवन के उतार चढ़ाव पर धैर्य व संघर्ष की गाथा है। आज की जीवनशैली में रामायण का अनुशरण आवश्यक है।
  • आज हमारी संस्कृति को बचाने के लिए रामचरित मानस आवश्यक हो गया है।

रामचरित को अपने जीवन में आत्मसात करें

यहां पढ़िए…रूपकुमारी जब गांवों में जनसंपर्क करने पहुंची तो

  • अपने दिनचर्या से समय निकालकर रामचरित पढ़कर इससे प्रेरणा लेते हुए इसे अपने जीवन में आत्मसात करें। जिससे निश्चित ही मानवता का भला कर सकेंगे।
  • तीन दिन तक चले रामचरित मानस गान समारोह में अंचल के मानस दल ने अपनी प्रस्तुति दी।
  • इस अवसर पर सीताराम सिन्हा, ग्राम सरपंच ममता ठाकुर, उपसरपंच विनोद सिन्हा, लोकप्रकाश डडसेना, उत्तर कुमार सिन्हा, गणेश देवदास, रामायण सिन्हा, रोहित सिन्हा, रमेश सिन्हा, पदमणी सिन्हा, रामायण बाई देवदास, ओमकुमारी सिन्हा, गोपाल ठाकुर, आशीष सिन्हा, हमेश सिन्हा, पुष्पराज डडसेना, ओम सिन्हा, विक्की सिन्हा, संजय सिन्हा, मिथलेश साहू, भानू देव, मनी, दुर्गेश सिन्हा सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button